पूर्व मंत्री भोला राय का राजकीय सम्मान के साथ अंतिम संस्कार,शोक की लहर

हाजीपुर(वैशाली)पूर्व मंत्री व प्रखर समाजवादी नेता उदय नारायण राय उर्फ भोला राय का राजकीय सम्मान के साथ जिले के राघोपुर प्रखंड स्थित रूस्तमपुर घाट पर अंतिम संस्कार किया गया।इस दौरान उप मुख्य मंत्री तेजस्वी यादव,मंत्री आलोक मेहता,पूर्व मंत्री शिव चंद्र राम,विधायक डॉक्टर मुकेश रौशन,पूर्व विधायक सतीश कुमार,डीएम यशपाल मीणा,एसपी मनीष कुमार समेत प्रशासनिक अधिकारियों के अलावा बड़ी संख्या में लोग शरीक हुए।

सरकारी तौर पर राजकीय सम्मान के साथ पुलिस कर्मियों ने सलामी दी और उनका अंतिम संस्कार किया गया।बता दें कि उदय नारायण राय उर्फ भोला राय का निधन बीते दिन 90 वर्ष की उम्र में हो गया था।वे जनता पार्टी की टिकट पर पहली बार 1980 में विधायक बने थे।1985 व 1990 में जनता दल के टिकट पर जीत दर्ज की।इसके बाद तीन बार एम एल सी बने।उस वक्त के मुख्य मंत्री रहे लालू प्रसाद यादव के लिए 1995 में भोला राय ने राघोपुर सीट छोड़ दी जिसका चर्चा आज भी लोग करते हैं।

यह समाजवादी आंदोलन में अग्रणी भूमिका निभाये।लालू प्रसाद यादव ने अपनी सरकार में भोला राय को गन्ना व उद्योग मंत्री बना कर उनकी कुर्बानी का सिला दिया।भोला राय राघोपुर की तरक्की के लिए हमेशा लड़ते रहे।इनकी इसी लड़ाई की देन है कि राघोपुर से होकर सिक्स लेन पुल का निर्माण हो रहा है।

लालू प्रसाद यादव से लेकर राबड़ी देवी,तेजस्वी यादव के चुनाव का मैनेजमेंट करते रहे।भोला राय के निधन से लालू प्रसाद यादव,राबड़ी देवी,तेजस्वी यादव,तेज प्रताप यादव समेत पूरा लालू परिवार सदमे में है।वहीं सूबे के मुख्य मंत्री नीतीश कुमार भी गहरा दुख व्यक्त किया है।बीते सितंबर 2020 में ही बिहार के विकास पुरूष नीतीश कुमार के न्याय के साथ विकास के काम से खुश होकर जदयू का दामन थाम लिया था।

भोला राय अपने जिंदगी में यह कहा था कि हम बिहार और देश को जेपी व लोहिया के सपनो जैसा देखना चाहते हैं।इनके संघर्ष की कहानी का एक हिस्सा यह भी है जब जेपी को पुलिस गिरफ्तार कर जेल ले जा रहा था तो ये उस बस हमला बोल दिया जिसमें जेपी को बंद करके ले जाया जा रहा था।यह 4 नवंबर 1974 का दिन था जब हाइकोर्ट गोलंबर के पास जेपी पर लाठीचार्ज हुआ था।भोला राय अपने जीवन में 20 माह तक जेल मे रहे।इस दौर को भूले नहीं और याद कर कहा था कि दुबारा वह दौर न आए।भोला राय के बेटे पूर्व जिला पार्षद सुरेश प्रसाद राय अपने पिता के जाने काफी सदमे मे है।भोला राय के निधन से वैशाली जिला मे शोक की लहर है।सभी राजनीतिक दल के नेताओं ने शोक व्यक्त किया है।
रिपोर्ट मोहम्मद शाहनवाज अता

Leave a Reply

Your email address will not be published.