बाँकाजुआ गांव के दो युवकों का सड़क दुर्घटना में एक साथ हुई मौत से गांव वाले हलकान

दोनों युवक के शव पहुचते ही गांव में मातम पसरा

परिजनों के चीत्कार से उपस्थित लोगों के आँखों मे आँसू

बच्चे को जन्म देने से पहले रीता का उजड़ सुहाग

भगवानपुर हाट(सीवान)थाना क्षेत्र के बाँकाजुआ गांव के दो युवकों का सड़क दुर्घटना में मौत।घटना बुधवार की देर संघ्या की बताई जा रही है। जब दोनों युवक मैरवा सीवान मुख्य सड़क पर तितरा के पास पहुचे तभी अज्ञात वाहन से बाइक में ठोकर लगने से बाइक से गिरकर गंभीर रूप से घायल हो गए। जिसमे मौके पर वीरेंद्र साह का 20 वार्षिय पुत्र धर्मेंद्र साह हो गई।जबकि दूसरा दिलीप साह का 21 वर्षीय पुत्र सचिन साह चिंताजनक स्थिति में इलाज के लिए पटना ले जाने के क्रम में अमनौर में मौत हो गई।

मृत सचिन के परिजन

विदित हो कि बाँकाजुआ गांव के दोनों मृत युवक अगरबत्ती का व्यवसाय में लगे थे।

मृत युवक सचिन का फाइल फोटो

उसी व्यवसाय के कच्चा मटेरियल के लिए मैरवा गए हुए थे।संध्या के समय घर वापसी के क्रम में जीरादेई के तितरा में यह घटना हुआ।जहाँ समाजिक कार्यकर्ता सह विधानसभा प्रत्याशी श्रीनिवासन यादव ने स्थानीय लोगों के सहयोग से गम्भीर रूप से घायल सचिन को सीवान सदर अस्पताल पहुंचाया तथा परिजनों को घटना की सूचना दी।सूचना मिलने पर परीजन सीवान पहुँचे।

मृत धर्मेंद्र के परिजन

सीवान सदर अस्पताल से उसे बेहतर इलाज के लिए पटना पीएमसीएच रेफर किया गया।पटना ले जाने के क्रम में रास्ते में अमनौर के पास सचिन की मौत हो गई।जहाँ से शव को वापस सीवान लाया गया।

मृत युवक धर्मेंद्र का फाइल फोटो

दोनों मृत में धर्मेंद्र दो भाइयों में सबसे छोटा था। जिसकी शादी नहीं हुई थी जबकि उसकी दो बहनों का विवाह हो चुका है।उसके पिता बाहर रह कर मजदूरी कर परिवार का परवरिश करते है।पुत्र के मौत पर माँ गीता देवी के चित्कार से घर पर मातम छाया है।वही पड़ोसी दिलीप साह के पुत्र मृत सचिन साह भी दो भाई था।जिसकी एक वर्ष पहले ही शादी हुई है।बड़े भाई सुजीत साह बिहार पुलिस में कार्यरत है।माता ज्ञानती देवी और पत्नी रीता देवी के चीत्कार से वहां उपस्थित लोगों के आँखों मे आँसू आ गए थे।बच्चे को जन्म से पहले पत्नी रीता का सुहाग उजड़ जाएगा।पुलिस दोनों शवों को कब्जे में लेकर पोस्टमार्ट करा कर परिजनों को सौप दिया।गांव में एक साथ दो युवकों के शव आने से मातमी सन्नाटा पसरा हुआ है।आस पास के लोग मृत युवकों के घर पहुंच कर सांत्वना देते हुए मिले जिसमे सुनील सिंह,अनिल राम विकास मित्र,मुन्ना राम,असरफ अंसारी,सुनील नट,पगल प्रदीप,अखिलेश सिंह,जितेंद्र कुमार, जयलाल सहनी आदि प्रमुख है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *