छपरा में प्रतिभा रत्न अवार्ड में सम्मानित हुए जीनियस छात्र-छात्राएं

छपरा(बिहार)मेलोड्रामा वेलफेयर सोसायटी, नई दिल्ली द्वारा आयोजीत “हौसला”के अंतर्गत “प्रतिभा रत्न अवार्ड – 2022 समारोह जिला स्कूल सभागार में आयोजित हुआ। समारोह मे मुख्य अतिथि के रूप में पहुंचे प्रोफ़ेसर डॉक्टर अनिल कुमार ने बच्चों को ट्रोफि, मेडल व प्रशस्ति पत्र देकर सम्मानित किया।

कार्यक्रम का उद्घाटन करते अतिथि

इसके पूर्व कार्यक्रम का दीप प्रज्वलित कर उद्घाटन प्रोफेसर डॉक्टर अनिल कुमार सिंह (परीक्षा नियंत्रक जयप्रकाश विश्वविद्यालय) संतोष कुमार (कोषागार पदाधिकारी) स्वेता वर्मा (प्राचार्या जिला स्कूल),नितु गुप्ता (संरक्षिका युवा क्रांति रोटी बैंक), सरोज कुमार सिंह ( जनरल सेक्रेटरी मेलोड्रामा वेल्फेयर सोसाइटी) और कुमार राजीव ने संयुक्त रूप से किया।

इसके बाद कार्यक्रम की विधिवत शुरूआत की गई। सबसे पहले मंच पर बैठे मुख्य अतिथि समेत सभी अतिथियों को अंगवस्त्र व बुके वह ट्रॉफी देकर सम्मानित किया गया। तत्पश्चात टॉपर छात्रों को सम्मान पाने को लेकर काफी उत्साह देखा गया। स्कूली बच्चे अपने विद्यालय के शिक्षक के साथ बैठे दिखे। मंच संचालन वरिष्ठ पत्रकार संजय भारद्वाज ने की। मौके पर मनोज वर्मा , नगेन्द्र सिंह,बसंत रस्तोगी, सुनिल सर व सैकड़ों गणमान्य लोग उपस्थित थे।

कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के रूप में पहुंचे प्रोफ़ेसर डॉक्टर अनिल कुमार सिंह व संतोष कुमार ने स्कूली बच्चों से कहा कि जीवन में सफलता पाने के लिए कड़ी मेहनत करना जरूरी है। तभी मुकाम हासिल हो सकता है। मुकाम हासिल करने के लिए समर्पित भाव से निरंतर अध्ययन करना होगा। कड़ी मेहनत व निरंतर अध्ययन से किसी भी मुकाम को हासिल किया जा सकता है। उन्होंने कहा कि वर्तमान समय में स्कूली छात्र-छात्रा शॉट कट पर विशेष ध्यान देते हैं। लेकिन सफलता पाने के लिए कोई शॉट कट नहीं होता। उन्होंने कहा कि ईमानदारी व देश प्रेम का रास्ता काफी लंबा होता है। लेकिन इस रास्ते पर चलने से थकान नहीं होगी। और आरामदायक होगा। उन्होंने स्कूली छात्र-छात्राओं को अपने मुकाम हासिल करने में ईमानदारी व देश प्रेम का रास्ता को अपनाने की नसीहत दी। स्कूली बच्चों को जीवन में सफलता हासिल करने के लिए कई टिप्स भी बताए। इसके साथ ही दसवीं व बारहवीं पास प्रतिभावान बच्चों को बधाई देते हुए उज्जवल भविष्य की कामना की।

प्रतिभावान छात्रों के “हौसलों” को नई उड़ान दी मेलोड्रामा वेलफेयर सोसायटी, नई दिल्ली:

पिछले दो सालों में हमारे देश ने बेहद मुश्क़िल वक्त देखा है। महामारी की मनहूसियत ने न सिर्फ़ हमारे अपनों को हमसे छीना है बल्कि हमारी ज़िंदगी भी पाबंदियों के पहरे में ही गुज़र रही है। पर इस महामारी ने हमें काफ़ी कुछ सिखाया भी है। इसके डरावने साये में हमने मानवता की असली क़ीमत पहचानी है। समाज को साथ लेकर चलना सिखा है। मदद के लिए हाथ बढ़ाना सिखा है और आज जबकि हम इस संकट से धीरे-धीरे बाहर आ रहे हैं ऐसे में अपने समाज के उन सैकड़ों नायकों को सम्मानित करने की ज़रूरत है जो महामारी के दौर में भी एक सिपाही की तरह लड़ते रहे और सामान्य स्थिति बहाल करने के लिए ज़ी-जान से जुटे रहे। कोरान काल में भी शिक्षा की अलख जगाने वाले शिक्षाविदों, शिक्षकों और छात्रों के हौसलों को नई उड़ान देने के लिए मेलोड्रामा वेलफेयर सोसायटी ने काम किया है सोसायटी विभिन्न क्षेत्रों में उत्कृष्ट काम करने वाले लोगों को “हौसला सम्मान” से सम्मानित किया उक्त बातें आयोजक अर्जुन सिंह ने कही।

दसवीं व बारहवीं के टापर्स बच्चों को किया गया सम्मानित:

कार्यक्रम के दौरान मेलोड्रामा की ओर से विभिन्न विद्यालय के दसवीं व बारहवीं पास प्रतिभावन बच्चों को सम्मानित किया गया। दसवीं व बारहवीं में 85 फीसद से अधिक अंक हासिल करने वाले बच्चों को ट्रॉफी , मेडल व प्रशस्ति पत्र देकर सम्मानित किया गया। यह सम्मान पाकर छात्र गदगद दिखे।

निजी संस्थानों के निदेशकों ने की तारीफ:

मेलोड्रामा वेलफेयर सोसायटी द्वारा आयोजित हौसला प्रतिभा रत्न अवार्ड कार्यक्रम की जिला स्कूल व दर्जनों निज संस्था के निदेशकों ने काफी तारीफ की। प्राइवेट स्कूल व कोचिंग संचालकों ने काफी सराहना की। उन्होंने कहा कि प्रतिभावन बच्चों को सम्मान मिलने से नई उर्जा मिलती है। बच्चों का उत्साह बढ़ता है। और बच्चों को आगे बढ़ने का अवसर प्राप्त होता है। मेलोड्रामा का यह कार्यक्रम काफी सराहनीय कदम है।

इनलोगों का मिला भरपूर सहयोग

शहर के विभिन्न संस्थान के संचालकों का भरपूर सहयोग मिला। इस कार्यक्रम को सफल बनाने में महत्वपूर्ण योगदान युवा क्रांति रोटी बैंक, होम डिजाइनर्स, संत सुखदेव इंटरनेशनल स्कूल, के.जी .एन आइटीआइ आदि ने भरपूर सहयोग किया।