महाराजगंज में उदयमान सूर्य को अर्घ्य देने के साथ लोक आस्था का महापर्व संपन्न

महाराजगंज(सीवान)प्रखंड क्षेत्र में उगते सूर्य को अर्घ्‍य देने के साथ लोक आस्था का महापर्व छठ पूजा संपन्न हो गया है। छठ व्रती शुक्रवार को उगते सूर्य को अर्घ्य देकर 36 घंटे का निर्जला उपवास को खत्म किया। इस मौके पर अनुमंडल मुख्यालय से लेकर ग्रामीण क्षेत्रों में श्रद्धालु शुक्रवार की अहले सुबह से ही घाटों पर एकत्र हो गए थे। छठ वर्ती भगवान सूर्य के निकलते ही पूरी आस्‍था के साथ उन्हें अर्घ्‍य अर्पित किया गया।

उदीयमान सूर्य को अर्घ्य देने के लिए काफी संख्या में श्रद्धालुओं की भीड़ छठ पूजा घाटों पर उमड़ी थी।आस्था के महापर्व छठ पूजा को लेकर महाराजगंज में भी हर्षोल्लास दिखा। चार दिनों का महापर्व नहाय खाय से शुरु होकर आज यानी शुक्रवार को उदीयमान सूर्य को अर्घ्य देने के साथ ही संपन्न हो गया।अनुमंडल मुख्यालय सहित ग्रामीण क्षेत्रों के विभिन्न छठ घाटों पर हजारों की संख्या में छठव्रतियों ने सुबह 5.47 बजे भगवान भास्कर को अ‌र्घ्य देकर अपने व अपने परिजनों की मंगल कामना का आशीष मांगा। छठ पूजा करने वाले छठव्रतियों ने दूध से अ‌र्घ्य देकर सूर्य भगवान की आराधना की। जबकि गुरुवार को श्रद्धालुओं ने 6.12 बजे अस्ताचलगामी सूर्य को अ‌र्घ्य दिए। शहर के कलक्टरी पोखरा छठ घाट पर छठ पूजा को देखने के लिए बड़ी संख्या में श्रद्धालु एवं अन्य समुदाय के लोग मौजूद थे।

शहर के कलक्टरी पोखरा,पसनौली पोखरा,सिहौता पोखरा, घरबरन साह का पोखरा,रामेश्वरम धाम पोखरा,कपिया मठ पोखरा,बाला बाबा मठ पोखरा,इन्दौली पोखरा, कपिया जागीर पोखरा सहित ग्रामीण क्षेत्रों में बंगरा कसदेउरा महुआरी पोखरा रिसौरा गौर बलिया तक्कीपुर सिकटिया बलऊ लेरूआ पटेढ़ा देवरिया आदि छठ घाट पर छठ पूजा पर विशेष सुरक्षा की व्यवस्था देखी गई। छठ घाटों पर पुलिस के जवान मुस्तैद थे। विधि व्यवस्था को लेकर थानाध्यक्ष अशोक कुमार सिंह दल बल के साथ विभिन्न छठ घाटों का जायजा ले रहे थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.