पूर्णिमा में विश्व रक्तदाता दिवस पर रेड क्रॉस में रक्तदान शिविर का आयोजन

  • युवा जागृति मंच द्वारा आयोजित रक्तदान शिविर में बहुत से लोगों ने लिया भाग
  • लोगों ने रक्तदान को जरूरतमंद की जीवन के लिए उपयोगी बताते हुए अन्य लोगों से भी की समय पर रक्तदान करने की अपील
  • 18 वर्ष से 60 वर्ष के कोई भी स्वस्थ व्यक्ति द्वारा हर 03 माह के अंतराल पर किया जा सकता है रक्तदान

पूर्णिया(बिहार)विश्व रक्तदाता दिवस के अवसर पर जिले के रेड क्रॉस भवन स्थित ब्लड बैंक सेंटर में युवा जागृति मंच द्वारा रक्तदान शिविर का आयोजन किया गया। इस शिविर में बहुत से स्वस्थ लोगों द्वारा जरूरतमंद लोगों की सहायता के लिए रक्तदान किया गया। इस दौरान लोगों को युवा जागृति मंच द्वारा रक्तदान के बाद रक्तवीर प्रमाणपत्र भी जारी किया गया। सुबह 10 बजे से शाम 04 बजे तक आयोजित रक्तदान शिविर में कुल 21 यूनिट रक्त का संग्रह ब्लड बैंक में किया गया।

लोगों ने रक्तदान को जरूरतमंद की जीवन के लिए उपयोगी बताते हुए अन्य लोगों से भी की समय पर रक्तदान करने की अपील :
विश्व रक्तदाता दिवस पर अपने जीवन का पहला रक्तदान कर रहे पूर्व रक्तवीर स्व. लक्ष्मण गांधी के बड़े पुत्र मिथुन कुमार ने कहा कि मेरे पिता ने अपने जीवन में 56 से अधिक बार रक्तदान किया था। आज उनकी पुण्यतिथि पर मैंने अपने जीवन का पहला रक्तदान किया। रक्तदान करने से मुझे कोई समस्या नहीं हुई। रक्तदान एक महादान होता है जिससे बहुत से जरूरतमंद लोगों की जान बच सकती है। सभी स्वस्थ लोग को इसमें भाग लेना चाहिए और रक्तदान करना चाहिए ताकि इससे निःसहाय लोगों की जान बच सके। वहीं शहर के रामबाग निवासी संजीव कुमार ने कहा कि सभी स्वस्थ लोगों को समय समय पर रक्तदान करना चाहिए। इसमें मुख्य रूप से जो युवा वर्ग के लोग हैं उन्हें आगे बढ़कर इसमें भाग लेना चाहिए ताकि जिले के ब्लड बैंक में हमेशा रक्त उपलब्ध रह सके। इससे अचानक जरूरत होने पर किसी गंभीर बीमार लोगों को रक्त मिल सकता है और उसकी जांच बच सकती है। मेरी सभी लोगों से नियमित रक्तदान की अपील है जिससे आमलोगों को समय पर लाभ मिल सके।

18 वर्ष से 60 वर्ष के कोई भी स्वस्थ व्यक्ति द्वारा हर 03 माह के अंतराल पर किया जा सकता है रक्तदान :
युवा जगृति मंच के संस्थापक कार्तिक चौधरी ने कहा कि सभी 18 से 60 वर्ष के स्वस्थ व्यक्ति द्वारा रक्तदान किया जा सकता है। एक बार रक्तदान करने के बाद लोग 03 माह का अंतराल पर दुबारा रक्तदान कर सकते हैं। रक्तदान करने से लोगों को कोई परेशानी नहीं होती और वह पूरे स्वस्थ रह सकते हैं। स्वस्थ व्यक्ति के नियमित रक्तदान करने से उनके शरीर में आयरन लेवल सही रहता है। इससे कोलेस्ट्रोल की मात्रा सही रहती है। रोग प्रतिरोधक क्षमता का विकास होता है।शरीर में नए ब्लड सेल्स बनते हैं।दिमाग स्वस्थ रहता व हार्ट अटैक की संभावना नहीं होती। इसलिए सभी लोगों को नियमित रूप से रक्तदान जरूर करना चाहिए।

Leave a Reply

Your email address will not be published.