हरियाणा केंद्रीय विश्वविद्यालय के विद्यार्थियों को मिला तीन दिन का औद्योगिक प्रशिक्षण

महेंद्रगढ़:हरियाणा केंद्रीय विश्वविद्यालय (हकेवि), महेंद्रगढ़ में व्यवसायिक अध्ययन एवं कौशल विकास विभाग के अंतर्गत उपलब्ध पाठ्यक्रम बी.वॉक. रिटेल एंड लॉजिस्टिक्स मैनेजमेंट के विद्यार्थियों को औद्योगिक कार्यशाला के अंतर्गत तीन दिन का औद्योगिक प्रशिक्षण प्रदान किया गया। इस प्रशिक्षण कार्यशाला में ओम लॉजिस्टिक्स के विशेषज्ञों के द्वारा विद्यार्थियों को लॉजिस्टिक्स व सप्लाई चैन मैनेजमेंट के बारे में विस्तार से जानकारी दी गई। इस दौरान प्रतिभागी विद्यार्थियों को इंडस्ट्रियल विजिट, वेयरहाउस विजिट भी करवाई गई। जिसके माध्यम से लॉजिस्टिक्स क्षेत्र के बारे में विद्यार्थियों को समयसामयिक विषयों का जानने-समझने का अवसर मिला। विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो. टंकेश्वर कुमार ने बताया कि इस तरह के औद्योगिक प्रशिक्षण विद्यार्थियों के कौशल विकास का बढ़ाने में मददगार होते हैं। कुलपति ने कहा कि अवश्य ही इस प्रशिक्षण से विद्यार्थी लाभांवित होंगे।

कुलपति ने कहा कि नई राष्ट्रीय शिक्षा नीति में भी विद्यार्थियों के कौशल विकास पर जोर दिया गया है। उन्होंने बताया कि एक अनुमान के अनुसार भारत में 19 से 24 आयु वर्ग में 5 प्रतिशत से भी कम भारतीयों ने औपचारिक व्यवसायिक शिक्षा प्राप्त की है। ये आंकड़े दर्शाते हैं कि भारत में व्यवसायिक शिक्षा के प्रचार में तेजी लाने की आवश्यकता है और इससे व्यवसायिक शिक्षा में अवश्य सुधार होगा। कुलपति ने बताया कि बी.वॉक. रिटेल एंड लोजिस्टिक्स मैनेजमेंट प्रतिस्पर्धी कॉर्पाेरेट जगत में ज्ञान और कौशल हासिल करने के लिए विद्यार्थियों को एक अच्छा मंच प्रदान करता रहा है। विभाग के समन्वयक प्रो. पवन कुमार मौर्य ने बताया कि इस तरह के औद्योगिक प्रशिक्षण से विद्यार्थियों में जो व्यावहारिक कौशल विकास होता है उसका उनके व्यक्तित्व निर्माण में महत्वपूर्ण स्थान है। उन्होंने बताया कि विभाग इस तरह की कार्यशाला, इंटर्नशिप, के माध्यम से विद्यार्थियों को लॉजिस्टिक्स क्षेत्र में भविष्य बनाने और उसमें उपलब्ध रोजगार की संभावनाओं को जानने में मदद मिली।

Leave a Reply

Your email address will not be published.