लोगों की स्वयं में सतर्कता कोरोना संक्रमण रोकने में मददगार : राजकुमार पासवान

  • कोरोना काल में अपनी ड्यूटी के साथ ही लोगों को जागरूक करने में भी लगे हैं यातायात पुलिस में कार्यरत राजकुमार
  • अनलॉक के बाद भी लोगों को कर रहे कोरोना के प्रति सतर्क
  • लोगों को संक्रमण से बचाव के उपायों का उपयोग करने की देते हैं सलाह

पूर्णिया(बिहार)कोरोना संक्रमण ने जहां हर कोई आम लोगों को घरों में रहने पर मजबूर कर दिया था, वहीं इसके प्रति आमलोगों को सतर्क और सुरक्षित रखने के लिए सभी चिकित्सक व पुलिस कर्मी जी-जान से लगे रहे. उस दौरान उन्होंने न केवल दिन-रात एक कर अपनी ड्यूटी निभाई बल्कि खुद अपने घर-परिवार से दूर रहकर आम लोगों को सतर्क व सुरक्षित रखने का भरपूर प्रयास किया. ऐसे ही पुलिस कर्मियों में से एक हैं राजकुमार पासवान. कोरोना काल में यातायात पुलिस के रूप में उन्होंने न केवल अपनी ड्यूटी निभाई है बल्कि देश में अनलॉक प्रक्रिया शुरू होने और आम लोगों के बाहर निकलने के बाद भी उन्हें कोरोना संक्रमण के प्रति जागरूक करने का भरसक प्रयास कर रहे हैं.

अपने ड्यूटी के साथ ही लोगों को संक्रमण के प्रति कर रहे जागरूक :
पूर्णिया जिले के शिलानाथ, रुपौली के स्थानीय निवासी राजकुमार पासवान पिछले कुछ सालों से जिला मुख्यालय के सबसे व्यस्त सड़को में से एक आर एन सॉव चौक पर यातायात नियंत्रण करते हैं. इस दौरान कार्य की व्यस्तता के बावजूद भी जब कहीं कोई व्यक्ति उसे कोरोना संक्रमण से बचाव के दिशा निर्देश का उल्लंघन करते हुए दिखाई देता है तो उसे नियम का पालन करने के लिए जागरूक करते हैं. इस विषय पर जानकारी देते हुए राजकुमार पासवान ने बताया कि कोरोना संक्रमण में इतने दिन तक सबों को घरों में रहने को बोला गया था. अब जब सरकार द्वारा छूट मिली है तो लोग खुलकर बाहर निकल रहे हैं और अपनी जरूरी कार्यों का निष्पादन कर रहे हैं. पर इसके साथ ही सरकार द्वारा कुछ नियम भी बनाये गए हैं जो लोगों को संक्रमण से सुरक्षित रखने के लिए जरूरी है. बहुत से लोग इसका पालन करते हुए दिखाई नही देते. उनका कार्यस्थल मुख्य बाजार के साथ ही है इसलिए उन्हें बहुत से ऐसे लोग दिखाई देते हैं जो नियमो का उल्लंघन करते हुए दिखाई देते हैं. ऐसे में वह तुरंत ही लोगों को इसके लिए आगाह करते हैं. ये सभी नियम सरकार द्वारा लोगों की सुरक्षा के लिए ही लगाए गए हैं. लोग इसका पालन कर न सिर्फ खुद का बल्कि अपने परिवार को भी संक्रमित होने से बचाये रख सकते हैं. यह ऐसा संक्रमण है कि अगर एक बार आप इसके चपेट में आ गए तो आपके परिवार के अन्य लोग भी इसका शिकार हो सकते हैं. इसलिए लोगों को जितना कम हो सके उतना ही घरों से निकलना चाहिए और इस दौरान सभी सुरक्षा के उपायों का उपयोग करना चाहिए.

लोगों को संक्रमण से बचाव के उपायों का उपयोग करने की देते हैं सलाह :
राजकुमार पासवान ने कहा कि लॉकडाउन के समय से ही हम सभी पुलिस कर्मी ज्यादातर समय ड्यूटी पर ही रहते थे. यातायात नियंत्रण के लिए हमें बहुत से अलग अलग लोगों से मिलना पड़ता था जो यात्रा कर रहे होते थे. ऐसे में हमें भी हमेशा संक्रमित होने का डर लग रहता था. ऐसे समय में वह लोग अपने परिवार व परिजनों से नहीं मिलते थे, ताकि हमारी वजह से कोई संक्रमण का शिकार न हो जाए. लोगों को भी हम संक्रमण से बचाव के सभी जरूरी उपायों जैसे मास्क, ग्लव्स, सैनिटाइजर आदि अच्छी तरह उपयोग करने की सलाह देते हैं जिससे कि लोग संक्रमण का शिकार न हों और अपने साथ साथ अपने परिवार को भी सुरक्षित रख सकें.

जागरूकता के साथ ड्यूटी भी करते हैं पूरा :
राजकुमार पासवान ने बताया कि आम लोगों को कोरोना के प्रति जागरूक करने के साथ ही अपनी ड्यूटी निभाने में भी कभी पीछे नहीं रहता. सरकार के साथ ही जिला प्रशासन ने भी नियमों का उल्लंघन करने की स्थिति में लोगों पर जुर्माना लगाने का निर्देश दिया है. हमारे द्वारा उलंघन करते हुए पाए जाने पर नियमित रूप से लोगों को जुर्माना वसूला जाता है. लोगों को मास्क, सोशल डिस्टेंसिंग के लिए सतर्क करने के लिए जिला पदाधिकारी ने भी इस चौक पर आकर दुकान और लोगों को नियमों का पालन करने के लिए निर्देशित किया गया. राजकुमार पासवान ने बताया कि अपने स्तर पर पूरी तरह प्रयासरत हैं कि लोग सरकार द्वारा जारी नियमों का पूरी तरह पालन करे. लोगों के सतर्क रहने पर ही हम संक्रमण को पूरी तरह खत्म कर सकेंगे.

Leave a Reply

Your email address will not be published.