युवा जागृति मंच द्वारा आयोजित किया गया रक्तदान शिविर

संस्थान द्वारा 29वां बार की गई सफलतम आयोजन

जिले में रक्त संकट देखते हुए स्वास्थ्य विभाग द्वारा किया गया आग्रह

राज्य स्वास्थ्य विभाग द्वारा कोरोना काल में लोगों से स्वैच्छिक रक्तदान की हुई है अपील

पूर्णियाँ(बिहार)कोरोना काल के वैश्विक महामारी के दौरान लगाई गई लॉक डाउन के कारण जिले में रक्त की उपलब्धता कम हो गई है. ऐसे में युवा जागृति मंच द्वारा जिले के त्रिदेव विवाह भवन, रजनी चौक, पूर्णियाँ में 29वां रक्तदान शिविर का आयोजन किया गया. जहां मंच के सदस्यों के साथ ही आम लोगों द्वारा भी रक्तदान किया गया. लॉक डाउन के कारण लोग अपने घरों में सुरक्षित हैं. इस दौरान स्वैच्छिक रक्तदान के लिए आने वाले आम लोगों में कमी आ गई है और इससे ब्लड बैंकों में रक्त की कमी हो गई है. इसे दूर करने के लिए स्वास्थ्य विभाग के आग्रह पर मंच द्वारा 29वां रक्तदान शिविर लगाया गया जहां संस्था सदस्यों तथा आम लोगों द्वारा रक्तदान किया गया.

29वीं बार की गई रक्तदान शिविर का आयोजन :
जिले में हो रहे रक्त संकट को देखते हुए युवा जागृति मंच द्वारा रक्तदान शिविर लगाया गया. संस्थान द्वारा 29वीं बार रक्तदान शिविर का सफल आयोजन किया गया. मंच संस्थापक कार्तिक चौधरी ने बताया कि युवा जागृति मंच द्वारा हमेशा रक्तदान शिविर का आयोजन किया जाता है. रक्तदान करने से आपके स्वास्थ्य की कोई हानि नहीं होती है बल्कि आप इससे खुशी की अनुभूति महसूस कर सकते हैं. इससे न जाने कितने जरूरत मन्द लोगों की ज़िन्दगी बच सकती है. सभी ब्लड बैंक लोगों द्वारा किए गए रक्तदान पर ही निर्भर करता है. इसलिए हर किसी को नियमित रूप से रक्तदान जरूर करना चाहिए. आयोजित शिविर में कुल 100 यूनिट रक्त का संग्रह मंच द्वारा किया गया.

ब्लड बैंक में रक्त की हुई है कमी :
कोरोना संक्रमण से हुए लॉक डाउन के कारण जिले के ब्लड बैंक में रक्त की कमी हो गई है. परन्तु इस समय बीमारियों में कमी नहीं हुई है. ऐसे में जरूरतमंद लोगों को ब्लड बैंक से रक्त मिलने में कठिनाई हो रही है. इस स्थिति से निपटने के लिए स्वास्थ्य विभाग द्वारा मंच से रक्तदान शिविर के लिए आग्रह किया गया. जिसको देखते हुए मंच के सदस्यों ने रक्तदान शिविर आयोजित करने का फैसला लिया. शिविर में न सिर्फ संस्थान के सदस्यों द्वारा बल्कि आम लोगों को भी इसमें शामिल होने की आग्रह की गई. जिससे कि ज्यादा से ज्यादा मात्रा में रक्त उपलब्ध कराई जा सके. ज्ञात हो कि कोरोना संक्रमण की वैश्विक महामारी के दौरान स्वास्थ्य विभाग, बिहार सरकार द्वारा भी मरीजों के रक्त की आवश्यकता की पूर्ति हेतु स्वैच्छिक रक्तदान करने की लोगों से अपील की गई है.

रक्त उपलब्ध कराने में मंच द्वारा हमेशा किया जाता रहा है सहयोग :
मंच संस्थापक कार्तिक चौधरी ने कहा जिले में लोगों को रक्त उपलब्ध कराने में मंच के सदस्यों द्वारा हमेशा से सहयोग किया जाता रहा है. जब भी किसी को भी जिले में रक्त की कमी का पता चलता है युवा जागृति मंच वहां पहुंच कर तत्काल उनकी मदद करता है. मंच द्वारा लोगों से भी अपील की जाती है कि जब भी किसी को मौका मिले रक्तदान अवश्य करें. इससे बहुत किसी जरूरतमंद की जान बच सकती है. कार्तिक चौधरी ने कहा कि “रक्तदान जीवनदान है… करके देखिए, अच्छा लगता है.”

रक्तदान शिविर के दौरान सोशल डिस्टेंसिन्ग का रखा गया ध्यान :

रक्तदान शिविर के दौरान सामाजिक दूरी का भी ध्यान रखा गया. हेल्थ वर्कस द्वारा संक्रमण रोकथाम के लिए हाथों की सफाई, मास्क, ग्लव्स एवं कैप का इस्तेमाल किया गया. साथ ही इस्तेमाल के बाद मास्क, ग्लव्स एवं कैप को सुरक्षित रूप से डिस्पोज भी किया गया.

Leave a Reply

Your email address will not be published.