प्रखंड के बीसो पंचायतों में बनाए गए कोरेण्टाइन सेन्टर

भगवानपुर हाट(बिहार)प्रखंड में नोवेल कोरोना वायरस से संक्रमित लोगों को कोरेन्टाइन करने के लिए बीस कोरेण्टाइन सेन्टर बनाए गए। इस सेंटर में बाहर आए हुए लोगो को कोरोना संक्रमण से बचाने के लिए रखा जाएगा।डीएम के आदेश पर हर पंचायत में एक-एक स्कूल को कोरेण्टाइन सेन्टर में तब्दील किया गया है। इन सभी सेंटर पर आवश्यक सुविधाओं के इंतजाम किए जा रहे हैं। इन सेन्टरों की देखरेख के लिए उस पंचायत के विकास मित्र, कार्यपालक सहायक व किसान सलाहकार को प्रतिनियुक्त किया गया है। बीडीओ डॉ. अभय कुमार ने बताया कि जो बाहर से आए है और वे होमकोरेण्टाइन रह सकते है इसके लिए स्थानीय मुखिया को लिखकर देना होंगा।तथा जिन व्यक्ति को कोरेण्टाइन सेंटर में रहना है उनको प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी की अनुशंसा पर सामाजिक संपर्क से बचाने के लिए आवश्यकतानुसार ऐसे केन्द्रों में चौदह से अठाइस दिनों तक निगरानी व देखभाल के लिए रखा जाएगा। इन सेन्टरों पर प्रतिनियुक्त कर्मी सीएचसी प्रभारी के अनुशंसा पर स्थानीय मुखिया, वार्ड सदस्यों व अन्य जनप्रतिनिधियों के सहयोग से कोरेंटाइन के लिए चिन्हित लोगों की भर्ती करेंगे और इसकी सूचना प्रशासन को देंगें। बीडीओ डॉ. कुमार ने बताया कि सोन्धानी में मुखिया बिंदु देवी के देखरेख में भगवानपुर महाविद्यालय शंकरपुर पंचायत में उत्क्रमित मिडिल स्कूल शंकरपुर, मिरजुमला में उत्क्रमित मिडिल स्कूल मिरजुमला, महम्मदा में उत्क्रमित मिडिल स्कूल महम्मदा, खेढ़वां में मिडिल स्कूल खेढ़वां, बनसोहीं में उत्क्रमित मिडिल स्कूल बनसोहीं, बिठुना में मिडिल स्कूल बिठुना, बड़कागांव में बेसिक स्कूल बड़कागांव, सरायपड़ौली में मिडिल स्कूल पड़ौली, सहसरांव में मिडिल स्कूल हुलेसरा, गोपालपुर में उत्क्रमित मिडिल स्कूल मिरहाता, महम्मदपुर में मिडिल स्कूल रामपुर दीघरी, बलहां एराजी में मिडिल स्कूल पंडित के रामपुर, मोरा खास में मिडिल स्कूल मोरा, कौड़ियां में मिडिल स्कूल कौड़ियां, उत्तरी साघर सुल्तानपुर में उत्क्रमित मिडिल स्कूल मराछी, दक्षिणी साघर सुल्तानपुर में उत्क्रमित मिडिल स्कूल माघर, विलासपुर में पंचायत सरकार भवन विलासपुर, भीखमपुर में उत्क्रमित मिडिल स्कूल चोरौली व ब्रह्मस्थान में राजरोशन सिंह कॉलेज हिलसर को कोरेंटाइन सेन्टर बनाया गया है।
उन्होंने कहा कि इस सेन्टर में बाहर से आने वाले वैसे लोगों अथवा पंचायत के वैसे लोगों को रखा जाएगा, जिन्हें अपने घर में होम कोरेंटाइन के लिए अर्थात अलग रहने के लिए जगह नहीं है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.