संसदीय क्षेत्र को जलीय कृषि और मत्स्य पालन के रूप में विकसित किया जाए:सांसद सिग्रीवाल

सांसद जनार्दन सिंह सीग्रीवाल ने लोकसभा में नियम-377 के अंतर्गत सदन में उठाया मामला

महाराजगंज(सीवान)स्थानीय सांसद जनार्दन सिंह सिग्रीवाल ने लोकसभा में नियम 377 के तहत विभिन्न मामलों को उठाते हुए कहा कि मेरे संसदीय-क्षेत्र महाराजगंज लोकसभा क्षेत्र में मत्स्य पालकों एवं जलीय कृषि करने वाले किसानों की संख्या बहुत ही अधिक संख्या में है l ऐसे में इस क्षेत्र को मत्स्य पालन के रूप हर स्तर से विकसित करने हेतु प्रधानमंत्री मत्स्य संपदा योजना के तहत संसदीय क्षेत्र के मत्स्य पालकों एवं जलीय कृषकों को अधिक से अधिक लाभ दिलाये जाने की आवश्यकता है l

सांसद जनार्धन सिंह सिग्रीवाल

आज सरकार भी चाहती है कि जलीय किसानों के आय को दोगुना करने तथा उनके जीवन स्तर को उठाने के लिए पी.एम.एम.एस.वाई.योजना के तहत उन्हें तालाब, हैचरी,खाने की मशीन, क्वालिटी टेस्टिंग लैब,मछली रखने और उसके संरक्षण की व्यवस्था की जाये ।

इसी के साथ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सरकार यह भी चाहती है कि जलीय किसानों को मत्स्य पालन से सम्बन्धित शिक्षा प्रदान करने के लिए महाविद्यालयों में प्रमाण-पत्र पाठ्यक्रम की शुरुआत की जाये।

इसलिए प्रमाण-पत्र पाठ्यक्रम की शुरुआत भी मेरे संसदीय क्षेत्र के महाविद्यालयों में किया जाये। इस योजना के लागु होने से महाराजगंज संसदीय क्षेत्र आर्थिक रूप से विकसित होगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published.