अंतर्राष्ट्रीय ईवी-एक्सपो का हिस्सा बनेगी हकेवि की स्मार्ट इको फ्रैंडली कार


महेंद्रगढ़:हरियाणा केंद्रीय विश्वविद्यालय (हकेवि), महेंद्रगढ़ के नवाचार एवं उद्भवन केंद्र में ऐसी तकनीक विकसित की है, जिसमें का इंजन हवा के दबाव से चलता है। इतना ही नहीं वर्तमान में बढ़ते हुए पर्यावरण प्रदूषण को देखते हुए इस पर्यावरण हितैषी स्मार्ट इको-फ्रैंडली कार में ऐसी सोलर प्लेटों का इस्तेमाल किया गया है जो सूरज की रोशनी के साथ-साथ अपनी दिशा परिवर्तित कर बैटरी को चार्ज रखती हैं। सड़क दुर्घटना को कम करने के उद्देश्य से कार में स्पीड जैमर तथा एंटी एक्सीडेंट बम्पर सिस्टम ही लगा हुआ है। विश्वविद्यालय में निर्मित इन अत्याधुनिक तकनीक को दिल्ली के प्रगति मैदान में 5 से 7 अगस्त, 2022 तक लग रहे अंतर्राष्ट्रीय ईवी-एक्सपो में प्रदर्शित किया जाएगा। विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो. टंकेश्वर कुमार ने कहा कि हरियाणा केन्द्रीय विश्वविद्यालय को अंतर्राष्ट्रीय ईवी-एक्सपो में अपनी नवप्रवर्तन तकनीको को दिखाने के लिए आमंत्रित किया गया है जो विश्वविद्यालय सहित समस्त क्षेत्र के लिए बड़े गर्व की बात है।


प्रो. टंकेश्वर कुमार ने कहा कि पर्यावरण प्रदूषण वर्तमान समय में बड़ी समस्या बनता जा रहा है। इस समस्या के समाधान को सुलझाने के लिए विश्वविद्यालय के नवाचार एवं उद्भवन केन्द्र में निर्मित स्मार्ट इको-फ्रैंडली कार मील का पत्थर साबित होगी। उन्होने कहा कि विश्वविद्यालय को नवाचार एवं उद्भवन केन्द्र के ऐसी अनेकों तकनीक विकसित की जा रही है जो वर्तमान में पर्यावरण प्रदूषण सहित अनेकों समस्याओं के समाधान में सहयोग करेगी। विश्वविद्यालय के कुलसचिव प्रो. सुनील कुमार ने बताया कि प्रो. टंकेश्वर कुमार के कुशल मार्गदर्शन एवं सहयोग से नवाचार केन्द्र निरंतर प्रगति कर रहा है। उन्होंने कहा कि भविष्य में विश्वविद्यालय सहित समस्त राष्ट्र को माननीय प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी के आत्मनिर्भर भारत, कुशल भारत, कौशल भारत मिशन को सफल बनाने के नवाचार केन्द्र अपनी अहम भूमिका अदा करेगा ऐसा उनका पूर्ण विश्वास है। कुलसचिव ने कहा कि विश्वविद्यालय की टीम ईवी-एक्सपो में भारत ही नहीं कई बहुराष्ट्रीय कम्पनियों के बीच अपने मॉडल को लेकर पर्यावरण हितैषी वाहनों को बनाने के प्रयास में साझेदार बनी है।
विश्वविद्यालय के नवाचार एवं उद्भवन केन्द्र की संयोजक प्रो. सुनीता श्रीवास्तव ने बताया कि नवाचार एवं उद्भवन केन्द्र के निर्मित स्मार्ट इको फ्रैंडली कार भविष्य में पर्यावरण प्रदूषण को कम करने में उपयोगी साबित होगी। उन्होंने कहा कि उनका प्रयास है कि केन्द्र के माध्यम से भविष्य में आने वाली समस्याओं को नवाचार गतिविधियों से सुलझाया जा सकें। उन्होंने विश्वविद्यालय के कुलपति, कुलसचिव, वित्त अधिकारी सहित नवाचार केन्द्र के सभी सदस्यों का उनके सहयोग के लिए आभार व्यक्त किया। उन्होने अंर्तराष्ट्रीय ईवी-एक्सपो में भाग लेने जा रही टीम के सदस्यों को बधाई देते हुए उनके उज्जवल भविष्य की कामना की। इस अवसर पर नवाचार एवं उ˜वन केन्द्र के सदस्य प्रो.पवन कुमार मौर्य, डॉ. सूरज आर्य, सुनील कुमार,संदीप आदि उपस्थित रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.