एमडीएम के चावल में बड़े पैमाने पर बीइओ के द्वारा किया गया हेरफेर

भगवाानपुर हाट बीइओ ने जिला आवंटित से कम चावल दिया विद्यालय को


बीएओ रीता कुमारी तीन प्रखंडों प्रभारी शिक्षा पदाधिकारी है


जिला पार्षद सदस्य सुशील कुमार डब्ल्यू ने डीएम को सूचना दे कि उच्चस्तरीय जांच की मांग

राजकिशोर सिंह उर्फ टीआई ने डीएम को शिकायत पत्र दे कि जांच की मांग

भगवानपुर हाट(सीवान)प्रखंड क्षेत्र के विद्यालयों में कोरोना महामारी से बचाव के लिए हुई लॉकडाउन के कारण बीते मई माह से एमडीएम का संचालन बंद है।जिसके कारण राज्य सरकार ने विद्यालय बंद होने के कारण छात्रों के बीच मई से लेकर अगस्त माह तक के चावल को छात्रों का अभिभावकों के बीच वितरण कराने का निर्णय लिया है। लेकिन शिक्षा विभाग के अधिकारियों के मिलीभगत से बच्चों के बीच चावल का वितरण उचित मात्रा में नहीं किया जा रहा है।बताते चले कि प्रखंड क्षेत्र के विद्यालयों के लिए जिला से आवंटित चावल को राज्य खाद्य निगम के गोदाम से विद्यालय में प्रखंड शिक्षा पदाधिकारी के द्वारा भेजा जाना है। जिसमे भगवानपुर हाट के शिक्षा पदाधिकारी रीता कुमारी के द्वारा बड़े पैमाने पर हेरफेर करते हुए जिला से आवंटित चावल की मात्रा से प्रति विद्यालय 50 किलो से लेकर दस क्विंटल तक कम आपूर्ति किया जा रहा है।जबकि भगवानपुर हाट प्रखंड कुल 173 विद्यालय संचालित होते है।जिसके कारण विद्यालय के शिक्षकों द्वारा छात्रों के बीच चावल कम मात्रा में दिया जा रहा है।इस संबंध में कई शिक्षकों से बात करने पर बताया कि बीइओ के द्वारा विद्यालय में जिला आवंटन से कम चावल भेजा गया है।जानकारी के लिए बता दे कि बीएओ रीता कुमारी वर्तमान में बसंतपुर व महाराजगंज प्रखंड के शिक्षा पदाधिकारी के प्रभार में है। जिससे असंका जाहिर की जा रही है कि इनके द्वारा तीनों प्रखंड में एमडीएम के चावल को विद्यालय में कम उपलब्ध कराया गया होगा।

बीइओ के द्वारा विद्यालयों में भेजे गए चावल
एक नजर में                       जिला से आवंटित चावल
1.एमएस हुलेसरा कन्या 1700 …………………1950
2.एनपीएस हुलेसरा एससी 300………….. …… 350
3.एनपीएस सहसराँव नोनिया टोली 300………. 350
4.पीएस दिलसाधपुर 400……………………….. 450
5.पीएस मरछिया टोला 300………………. …… 300
6.यूएमएस पिपरहिया टोले जलपुरवा 600…….. 700
7.एनपीएस राजपूत टोला बिठुना 700………….. 800
8.बेसिक स्कूल बड़कागांव 1750………………. 1900
9.एनपीएस सहटोला धानुक टोला 600…………. 650
10.पीएस बड़कागांव कन्या 300………………… 300
11.पीएस मिश्रवलिया 350………………………. 350
12.यूएमएस बड़कागांव उर्दू 1400………………1550
13.एमएस महमदा 6000………………………. 6450
14.एनपीएस कोइरगांव मिश्रवलिया 300……….. 300
15.पीएस चैयापाली 700…………………………. 700
16.पीएस कोइरगांव 500…………………………. 600
17.यूएमएस भेरवनिया 1500……………………1650
18.यूएमएस गोबिंदापुर 1000………………….. 1100
19.एनपीएस यादव टोला सलेमपुर 250………… 300
20.पीएस सलेमपुर 250………………………….. 300
21.यूएमएस बलहा अलिमर्दनपुर उर्दू 1500……1650
22. यूएमएस डेहरी 1250……………………….1400
23.यूएमएस सरया उर्दू 2150………………….. 2350
24.यूएमएस सहटोला बलहा 1250……………..1450
25.एमएस बिठुना 1900……………………….. 2100
26.एमएस सिंघौली 550………………………… 600
27.एनपीएस बिठुना बरबीगहवा 300………….. 350
28.एनपीएस बिठुना मंदिर 450………………… 500
29.एनपीएस मिश्र के मोरा 450………………… 500
30.एनपीएस सलेमपुर 450…………………….. 500
31.एनपीएस तरवार टोले खरिवट 450………… 500
32.पीएस मेरी दलीप 600………………………. 650
33.पीएस मेरी सुदामा 400……………………… 450
34.पीएस मोरा कन्या 400………………………. 450
35.पीएस तरवार 500…………………………… 550
36.एमएस जुआफर 3000……………………. 3950
37.यूएमएस शंकरपुर 2000…………………… 2900
38.एमएस चकिया 5000……………………… 7250

जब जिला आवंटन से विद्यालयों में कम चावल उपलब्ध कराने के संबंध में बीएओ रीता कुमारी से बात किया गया तो उन्होंने ने इस संबंध में बात करने से इनकार कर दिया।

इस संबंध में डीईओ सीवान से बात करने पर बताया कि डीपीओ एमडीएम से जांच कराई जा रही है।

डीपीओ एमडीएम से बात करने पर बताया कि चावल हेरफेर की शिकायत पर जांच की जा रही है। कोई दोसी बचेगा नहीं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.