शादी की नीयत से युवती को भगा ले जाने के मामले में प्राथमिकी दर्ज

भगवानपुर हाट(सिवान)प्रखंड मुख्यालय के भगवानपुर बाजार से एक युवती को शादी की नीयत से भगा ले जाने का मामला प्रकाश में आया है। इस मामले में युवती के पिता ने थाने में आवेदन दे एफआईआर दर्ज करायी है। दिए आवेदन में उसने अज्ञात युवक को आरोपित किया। युवती अपने संबंधी के दुकान पर रहकर मोबाइल रिपेयरिंग का काम सिखती थी। घटना तीस जून की शाम करीब चार बजे की बतायी जा रही है। वह दुकान से यह कहकर निकली कि वह अपने मां से मिलने जा रही है। लेकिन वह मां के पास न जाकर रास्ते से लापता हो गई। घरवालों ने अपने संबंधी के घर व दुकान के आसपास खोजबीन की लेकिन उसका कोई सुराग नहीं मिला। इस बीच उसके मोबाइल पर परिजनों से उसकी बात हुई तो उसने कहा कि मैं गोरखपुर में हूं और ठीक हूं। आपलोग अब मेरी चिंता न करें। मुझे कहीं दूसरे जगह जाना है। तब घरवालों को लगा कि किसी ने बहलाफुसला कर शादी की नीयत से उसे भगा लिया। घरवाले उसकी शादी तय करने के लिए वर की तलाश में थे। उसने करीब तीन साल पहले इंटर पास किया था। पिता के आवेदन कर एफआईआर दर्ज कर पुलिस युवती का पता लगाने में जुटी है।

पिस्टल का भय दिखाकर लुटेरों ने बाइक छीनी

भगवानपुर हाट(सिवान)थाना क्षेत्र के सीवान व छपरा जिले की सीमा के पास बने पुलिस चेक पोस्ट के समीप एसएच 73 पर शनिवार की रात्रि में अपराधियों ने पिस्टल का भय दिखाकर बाइक छीन ली है। बाइक छिनने के दौरान बाइक चालक के साथ मारपीट भी हुई। लेकिन बाइक लूटेरों ने गोली मारने की धमकी देकर बाइक छीन लिया। लूटी गई बाइक भगवानपुर थाना क्षेत्र के हुलेसड़ा गांव के प्रदीप कुमार यादव की थी। वे अपनी बाइक से समस्तीपुर से नौकरी करके घर आ रहे थे, इसकी क्रम में रास्ते में यह घटना घटी। पीड़ित युवक प्रदीप कुमार इस घटना की सूचना पुलिस को देते हुए बताया कि आने के दौरान रास्ते में वह तरैया के पास रामबाग में लाइन होटल के पास थोड़ी देर के लिए रुककर घरवालों से बात किया। उस समय रात के करीब दस बज रहे थे। वहां से आगे बढ़ने पर जब मैं सारण व सीवान जिला की सीमा पर चेक पोस्ट के पास ओवरटेक कर एक कार मेरे बाइक के आगे खड़ी कर मुझे रोक दिया। कार में चार-पांच लोग सवार थे। उसमें से तीन लोग बाहर निकलकर पिस्टल का भय दिखाकर मेरी पल्सर गाड़ी को छीनने लगे। जब मैंने उनलोगों का विरोध किया तो वे लोग मुझे गोली मारने की धमकी देकर मेरा बाइक छीनकर फरार हो। मैं जैसे तैसे घर पहुंचा और इसकी सूचना थाने को दी। इसकी सूचना मिलने पर रविवार को थानाध्यक्ष विपिन कुमार घटनास्थल पहुंच जांच में जुट गए हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published.