शारीरिक दूरी अपनाकर कोरोना वायरस के संक्रमण से रहें दूर

  • सार्वजनिक स्थानों पर भी जरूरी है सतर्कता
  • कोरोना काल में सुरक्षा मानकों को अपनाकर स्वयं को रखें सुरक्षित

पूर्णिया(बिहार)देश में कोरोना वायरस का संक्रमण लगातार तेजी से बढ़ता जा रहा है। सरकार भी संक्रमण की रोकथाम के लिए हर संभव प्रयास कर रही है। एक ओर जहां बढ़ते मामलों को देखते हुए अस्पतालों में बेहतर व्यवस्था की जा रही है, वहीं लोगों से स्वयं के साथ अन्य लोगों के बचाव के लिए भी सजग और सतर्क रहने को कहा जा रहा है। इसी कड़ी से सक्रमण के प्रभाव को फैलने से रोकने के लिए कई राज्य में लॉकडाउन भी लगाया गया है। शहर से लेकर अब ग्रामीण अंचल भी इसके प्रभाव से बचे हुए नहीं हैं, ऐसे से सावधानी बरतनी काफी जरूरी हो गई है। हम सभी ने सामाजिक दूरी को अपनाया है, लेकिन आज इससे कहीं ज्यादा शारी​रिक दूरी पर ध्यान देने की जरूरत है। स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से कोरोना से बचाव के लिए जारी की गई गाइडलाइंस में शारीरिक दूरी का भी जिक्र है।

यहां बरते ज्यादा सावधानी:

स्वास्थ्य केंद्र, बैंक, डाकघर, बाजार, दुकान आदि में हम अक्सर काम जल्द खत्म करने को लेकर कुछ असावधानियां बरतते हैं, इसका पता हमें उस वक्त नहीं चलता। ऐसे में सक्रमण के प्रभाव में आने का खतरा बढ़ जाता है। इसलिए जब भी किसी काम से घर से बाहर निकलें सतर्कता को कभी भी नजरअंदाज नहीं करें।

क्यों जरूरी है शारीरिक दूरी:

संक्रमण के इस दौर में स्वच्छता पर भी अधिक ध्यान देने की जरूरत है। बारिश के इस मौसम में साफ-सफाई को नजरंदाज नहीं करें एवं घर के साथ आस-पास भी साफ-सफाई करते रहें। संक्रमण से बचाव के मद्देनजर लोग घर से मास्क पहनकर तो निकलते हैं, लेकिन बात करने या दुकान आदि में सामान लेने के दौरान उसे नाक और मुंह से निचे कर लेते हैं, जिससे संक्रमण बढ़ने का खतरा और बढ़ जाता है। इसलिए मास्क को बार-बार खोलने से बचने की जरूरत है।

सुरक्षा के मानकों को अपनाने से रहेंगे सुरक्षित:

कोरोना वायरस मुख्य रूप से हमारे चेहरे यानी नाक, मुंह या आंखों के जरिए ही शरीर में प्रवेश करता है। अगर हमने मास्क पहन रखा है तो यह अच्छी बात है, लेकिन अगर अगले व्यक्ति ने नहीं पहना है तो यह खतरनाक हो सकता है। ऐसे में बिना मास्क पहने लोगों से शारीरिक दूरी अपनाकर संक्रमण के प्रभाव में आने से स्वयं को बचा सकते हैं। ज्यादा जरूरत हो तो घर से अवश्य निकले, लेकिन इस दौरान सुरक्षा के मानकों और शारीरिक दूरी को अपनाकर अपने साथ साथ दूसरों को भी सुरक्षित रखें।

Leave a Reply

Your email address will not be published.