जिले में चौथे चरण का वैक्सीनेशन अभियान पूरे जोर-शोर से चल रहा है

  • जिलावासियों से मास्क लगाने एवं टीकाकरण के लिए डीएम ने की अपील
  • निर्धारित समय पर पूरा होगा वैक्सीनेशन अभियान का लक्ष्य
  • बुजुर्गों को दी गई वैक्सीन, उत्साह के साथ कराया वैक्सीनेशन

किशनगंज(बिहार)जिले में कोरोना संक्रमण लगातार बढ रहा है। शनिवार को भी जिले में 45 व्यक्ति संक्रमित हुए हैं। कोविड-19 संक्रमण को जड़ से मिटाने के लिए जिले में पूरे जोर-शोर से चौथे चरण का वैक्सीनेशन महाअभियान जारी है। जिसे गति देने में स्वास्थ्य विभाग एवं जिला प्रशासन ने अपनी पूरी ताकत झोंक दी है। इस चरण में 45 वर्ष के ऊपर सभी व्यक्तियों का भी वैक्सीनेशन हो रहा है। इस चरण में जिला प्रशासन एवं स्वास्थ्य विभाग की पूरी कोशिश है कि एक भी लोग वैक्सीन लगवाने से वंचित नहीं रहें। जिससे कोविड-19 वायरस संक्रमण को जड़ से मिटाया जा सके।

जिलावासियों से मास्क लगाने एवं टीकाकरण के लिए डीएम ने की अपील:
जिला पदाधिकारी डॉ आदित्य प्रकाश ने जिलावासियों से अपील की है कि वे मास्क अवश्य पहनें, सार्वजनिक स्थानों पर भीड़ न लगावें तथा सामाजिक दूरी का अनुपालन सुनिश्चित करें। साथ 45 वर्ष के ऊपर सभी व्यक्ति या कोविड का टीका लेकर कोरोना मुक्त परिवार, समाज का निर्माण करें। यह टीका जिले के सभी प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्रों, सामुदायिक केन्द्रों एवं सदर असपताल सहित कुल 119 टीकाकरण केन्द्रों में निःशुल्क उपलब्ध है। जिलाधिकारी ने कहा कोरोना संक्रमण से बचाव की मुहिम में नित्य नए आयाम को गढ़ने में कोविड-19 के टीकाकारण को निरंतर सफलता मिल रही है। प्रथम चरण के स्वास्थ्यकर्मी एवं फ्रंट लाइन वर्कर्स पदाधिकारी जो भी टीकाकरण के लिए छूट गए हैं है वो भी स्वयं जा कर अपना टीकाकरण अवश्य करवाएं तथा सभी स्वास्थ्य कर्मी एवं फ्रंट लाइन वर्कर जो टीका ले चुके है अपने बुजुर्ग माता-पिता, सगे संबंधियों का भी टीकाकरण अवश्य करवाएं। टीका लगने के बाद 30 मिनट तक स्वास्थ्य विभाग की टीम लोगों की निगरानी करती है। उसे कोई समस्या आएगी तो उसका तत्काल निदान किया जाएगा। इसलिए कोरोना का टीका लेने में संकोच नहीं करें और जब आपकी बारी आए तो केंद्र पर जाकर जरूर टीका लगवाएं।

टीका का बूस्टर डोज लेने से नहीं चूके:
जिला पदाधिकारी ने बताया जिन लोगों ने कोरोना टीका का पहला डोज ले लिया है, वे आवश्यक तौर पर चौथे से आठवें सप्ताह के अन्तराल पर दूसरी डोज ले लें। अगर आप दूसरा डोज नहीं लेंगे तो आपके टीकाकरण की प्रक्रिया पूरी नहीं होगी। ऐसा करने से कोरोना की चपेट में आने की संभावना रहेगी। इसलिए कोरोना टीका की दूसरी डोज अवश्य लें। इससे किसी तरह का कोई नुकसान नहीं होता है।

माइक्रो कंटेन्मेंट जोन के सभी व्यक्ति जांच अवश्य कराएं:
जिला पदाधिकारी डॉ आदित्य प्रकाश ने जिले के आमजनों से यह भी कहा कि जहां भी संक्रमित व्यक्ति का पता चले उसके निकट के 10-20 घरों के लोग अपनी जांच अवश्य कराएं जिससे संक्रमण के फैलाव को रोका जा सके। वर्त्तमान में जिले में कुल 30 कन्टेनमेंट जोन बनाये गये हैं। जिसमें से किशनगंज शहरी क्षेत्र में 24, बहादुरगंज में 02, किशनगंज ग्रामीण 01, कोचाधामन 01, ठाकुरगंज 02 माइक्रो कंटेनमेंट जोन सक्रिय हैं।

निर्धारित समय पर पूरा होगा वैक्सीनेशन अभियान का लक्ष्य:
जिला पदाधिकारी डॉ आदित्य प्रकाश ने बताया जिले के 2011 के जनगणना के मुताबिक 1690400 के कुल 19 % 320966 का लक्ष्य के आलोक में 64252 का टीकाकरण हो पाया है। जिले के कुल 69292 जीविका दीदी एवं उनके परिवार के सदस्य इस टीका के योग्य हैं जिसके लिए हर दिन 7000 हजार लाभुकों के टीकाकरण का लक्ष्य निर्धारित है। चौथे चरण का वैक्सीनेशन अभियान का लक्ष्य भी हर हाल में तय एवं निर्धारित समय पर पूरा कर लिया जाएगा। जिले के सभी प्रखंड विकास पदाधिकारी एवं पीएचसी प्रभारी को भी इसको लेकर आवश्यक निर्देश दिए गए हैं। ताकि वैक्सीनेशन अभियान का सफल संचालन में किसी प्रकार की परेशानी का सामना नहीं करना पड़े।

पूरी तरह सुरक्षित है वैक्सीन:
जिला पदाधिकारी डॉ आदित्य प्रकाश ने बताया वैक्सीन लेने के बाद वैक्सीन लेने वाले बुजुर्गों ने कहा कि पूरी तरह वैक्सीन सुरक्षित हैं। मेरी बारी आई तो मैंने वैक्सीन ली और पूरी तरह स्वस्थ हूँ। इसलिए, आप भी अपनी बारी आने पर वैक्सीन जरूर लगवाएं। टीका लेने पर किसी तरह का कोई साइड इफेक्ट नहीं होता है। मैंने लिया और मुझे कोई नुकसान नहीं हुआ। इसलिए आप भी कोरोना का टीका लेने में उत्साह दिखाएं। आप भी सुरक्षित हो जाएंगे। रमजान के महीने को ध्यान में रखकर जिले में सभी प्राथमिक एवं अतिरिक्त प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्रों में शाम के 06 बजे से 09 बजे तक टीकाकरण की व्यवस्था की गयी है।

कोविड-19 से स्थाई निजात का एकमात्र उपाय है वैक्सीन, इसलिए वैक्सीनेशन से नहीं करें परहेज:
जिला पदाधिकारी ने कहा कोविड-19 से स्थाई निजात का एकमात्र उपाय वैक्सीन ही है। इसलिए, वैक्सीनेशन से परहेज नहीं करें, बल्कि उत्साह के साथ वैक्सीनेशन कराएं। इससे आप तो स्वस्थ होंगे ही साथ ही आपका परिवार और समाज भी सुरक्षित रहेगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *