फाइलेरिया उन्मूलन में आशा एवं आंगनबाडी सेविका करेंगी सहयोग

छपरा फाइलेरिया उन्मूलन के लिए जिले में 7 अगस्त से सर्वजन दवा सेवन कार्यक्रम की शुरूआत होगी। इसको लेकर सोमवार  को जिला मलेरिया पदाधिकारी के कार्यालय में सभी बीएचएम एवं बीसीएम की बैठक की गई एवं कार्यक्रम के लिए प्रस्तावित गतिविधियों के विषय में जानकारी एवं निर्देश दिये गए।


इस अवसर पर सिविल सर्जन माधवेश्वर झा ने बताया फाइलेरिया उन्मूलन के लिए 7 अगस्त से शुरू होने वाली सर्वजन दवा सेवन कार्यक्रम को सफ़ल बनाने के लिए सभी आशा, आंगनवाड़ी सेविका, एएनएम सहयोग करेंगी। इसके लिए सभी बीएचएम एवं  बीसीएम की आशा एवं आंगनवाड़ियों की बैठक कर फाइलेरिया पर चर्चा करेंगे। साथ ही आशा एवं आंगनवाड़ियां अपने क्षेत्र में लक्षित समूह को दवा खिलाने के लिए सामुदायिक जागरूकता का भी सहारा लेंगी। अधिक से अधिक लोगों को फाइलेरिया के विषय में जागरूक करने के लिए आशा, आंगनवाड़ी अपने आस-पास की महिलाओं को भी जागरूक करेंगी।


सर्वजन दवा सेवन कार्यक्रम के विषय में जानकारी देते हुए जिला मलेरिया पदाधिकारी दिलीप सिंह ने बताया कि इस अभियान में डीईसी एवं एलबेंडाजोल की गोलियाँ लोगों की दी जाएगी। 2 से 5 वर्ष की उम्र तक के बच्चों को डीईसी की एक गोली एवं एलबेंडाजोल की एक गोली, 6 से 14 वर्ष तक के बच्चों को डीईसी की दो गोली एवं एलबेंडाजोल की एक गोली एवं 15 वर्ष से अधिक उम्र के लोगों को डीईसी की तीन गोली एवं एलबेंडाजोल की एक गोली दी जाएगी। एलबेंडाजोल का सेवन चबाकर किया जाना है। डीईसी की गोली खाली पेट नहीं खाना है। अभियान में आशा एवं आंगनवाड़ी घर-घर जाकर लक्षित लोगों को दवा खिलायेंगी।कार्यक्रम मे सिविल सर्जन माधेश्वर झा डीएमओ दिलीप सिंह, वी भीवीडी सुधीर कुमार सिंह जिला सामुदायिक उत्प्रेरक ब्रजेन्द्र कुमार सिंह, पीसी आई के जिला समन्वयक मानव कुमार उपस्थित थे।
यह होंगे लक्षित समूह
हर व्यक्ति को इन दवाओं का सेवन करना है। केवल गर्भवती महिलाओं, दो साल से कम उम्र के बच्चों एवं गंभीर बीमारी से पीड़ित लोगों को यह दवा सेवन नहीं करना है 

दो साल से पाँच साल तक के बच्चे  भी फाइलेरिया दवाओं का सेवन कर सकते हैं 

Leave a Reply

Your email address will not be published.