बदलाव:बेटी के लगन के अवसर पर पूरे गाँव में घर घर भारत का संविधान भेंट किया गया

शंकर मेघवंशी के फेसबुक वॉल से
देश:राजस्थान प्रदेश जिला झुन्झुनू समसपुर गाँव से विद्याधर काजला दिनाँक 25 जून 2020 को अपनी पुत्री का लगन और तिलक का शगुन लेकर गांव शिवदयालपुरा(नया बास)में परिवार व रिश्तेदारों के साथ पहुंचे, इस अवसर पर विशेष बात यह देखने को मिली कि उपस्थित रिश्तेदारों,साथ में गये भाई बन्धुओं एवं गाँव के प्रत्येक लोगों को बाबा साहेब अंबेडकर के संविधान की ,बेटी के लगन के अवसर पर पूरे गाँव में घर घर भारत का संविधान भेंट किया गया।

राजस्थान प्रदेश जिला झुन्झुनू समसपुर गाँव से विद्याधर काजला दिनाँक 25 जून 2020 को अपनी पुत्री का लगन और तिलक का शगुन लेकर गांव शिवदयालपुरा(नया बास)में परिवार व रिश्तेदारों के साथ पहुंचे, इस अवसर पर विशेष बात यह देखने को मिली कि उपस्थित रिश्तेदारों,साथ में गये भाई बन्धुओं एवं गाँव के प्रत्येक घर पर (भीम प्रवाह पब्लिकेशन, सीकर व्दारा प्रकाशित) बाबासाहेब डॉ.अंबेडकर के संविधान की प्रति भेंट की गई।

इस अवसर पर उपस्थित सभी लोगों ने इस क्रांतिकारी कदम की जमकर तारीफ की…

विद्याधर काजला कोई सरकारी अधिकारी अथवा कर्मचारी नहीं है बल्कि एक दिहाड़ी मजदूर है और मात्र दूसरी कक्षा तक पढ़ा हुआ है लेकिन *व्हाट्सएप ग्रुप मिशन अम्बेडकर में पोस्ट पढ़कर ही इन्हें बाबा साहेब अंबेडकर के मिशन का ज्ञान हुआ और घर-घर संविधान बांटने की प्रेरणा मिली।

क्रांतिकारी भीम सैनिक विद्याधर काजला को इस साहसिक कार्य के लिए बहुत बहुत बधाई एवं ढेर सारी धम्म कामनाएं देते हैं।
💐💐💐💐💐💐💐💐💐
आलेख :- बी एल बौद्ध

Leave a Reply

Your email address will not be published.