जिला पार्षद चन्द्रिका राम ने शिक्षकों के समर्थन में एक दिवसीय भूख हड़ताल किया

महाराजगंज (सीवान) प्रखंड कार्यालय परिसर स्थित  बीआरसी भवन के प्रमुदित परिसर में गुरूवार को ग्यारह दिनों से चल रहे नियोजित शिक्षकों की हड़ताल आज भी जारी रहा। समान काम-समान वेतन सहित विभिन्न सेवाशर्त की मांगों को लेकर बिहार राज्य शिक्षक संघर्ष समन्वय समिति के आह्वान पर प्रखंड के हड़ताली शिक्षकों की बैठक को पूर्व सांसद ओमप्रकाश यादव  ने शिक्षकों को सम्बोधित करते हुए कहा कि सूबे के माननीय मुख्यमंत्री से अपनी हठधर्मिता त्याग कर शिक्षकों की जायज मांग को स्वीकार करते हुए गरीब बच्चों के भविष्य ख्याल रखते हुए हड़ताल को समाप्त करावे। क्योंकि बच्चे ही भारत के भविष्य है।

भूख हड़ताल पर बैठे जिला पार्षद सह राजद नेता चन्द्रिका राम

शिक्षकों की हड़ताल से बच्चों के भविष्य खराब हो रही है। कांग्रेस नेता रमेश उपाध्याय ने हड़ताली शिक्षकों को संबोधित करते हुए कहा कि शिक्षकों की सभी मांग जायज व सर्वथा न्यायोचित है एवं संविधान सम्मत है इसे सरकार को अवश्य माननी पड़ेगी।वही जिला पार्षद सह राजद नेता चन्द्रिका राम ने हड़ताली शिक्षकों के समर्थन में प्रखंड कार्यालय परिसर में एक दिवसीय भूख हड़ताल किया।तथा सरकार से मांग किया की उनकी मांगो को सरकार यथा सीघ्र मान ले ।

शिक्षक संघ के प्रदेश उपाध्यक्ष पूनम कुमारी ने सभा को संबोधित करते हुए कहा कि सरकार जिस दमनात्मक नीति को अपना रही है वह सर्वथा निंदनीय है और अब हमारी लड़ाई और तेज होने वाली है जब तक हमारी मांगे पूरी नहीं होती हमारा आंदोलन जारी रहेगा। क्रांतिकारी शिक्षक नेता सतीश कुमार जिला सचिव में हड़ताली शिक्षकों में ऊर्जा का संचार किया।

बैठक की अध्यक्षता मुनमुन गांधी ने किया। बैठक में पूर्व शिक्षक सह स्वतंत्रता सेनानी मुंशी सिंह, राजद नेता अरविंद कुमार, महाराजगंज शिक्षक संघर्ष समन्यव समिति का अध्यक्ष अशोक कुंवर, उपाध्यक्ष रत्नेश कुमार सिंह, सचिव मुनमुन गांधी, उप सचिव छोटेलाल मिश्रा, धर्मेंद्र कुमार श्रीवास्तव, सुभाष कुमार सिंह, हरेन्द्र कुमार, संजय राय, नीरज कुमार, संजय पासवान, मनीष भारती, भगवान लाल, मुन्ना लाल ठाकुर, अमित कुमार सिंह, मनीष रजक, मदन पंडित, मेराज जावेद, अंशु कुमार पाण्डेय, कुमुद कुमारी, रंजन सिंह, मुन्ना शर्मा, निसार अहमद, नरेंद्र पंडित, चिन्ता कुमारी, देवस्मिता कुमारी, बबीता कुमारी, बिन्दु चौधरी,अनिल कुमार सिंह, चंद्रिका यादव, हरेंद्र राम आदि शिक्षक शिक्षिका उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.