अब परिवार नियोजन पखवाड़ा 31 जुलाई तक, दिए गए निर्देश

छपरा परिवार नियोजन के साधनों के इस्तेमाल में गति लाने के लिए 11 जुलाई से 24 जुलाई तक राज्य के सभी जिलों में जनसंख्या स्थिरता पखवाड़ा चलाया गया। इस दौरान परिवार नियोजन के स्थायी एवं अस्थायी साधनों के अत्यधिक इस्तेमाल पर ज़ोर देने के साथ विभिन्न गतिविधियों के जरिए सामुदायिक जागरूकता बढ़ाने पर भी बल दिया गया। अब  यह पखवाडा 31 जुलाई तक चलाया जाएगा। कार्यपालक निदेशक राज्य स्वास्थ्य समिति ने सभी जिलों के सिविल सर्जन को पत्र लिखकर इस अभियान को 31 जुलाई तक जारी रखने के निर्देश दिए हैं। 11 जुलाई से सभी जिलों में परिवार नियोजन जागरूकता के लिए चलायी जा रही सारथी जागरूकता रथ का संचालन 24 जुलाई तक ही किया जाना था।

अपेक्षित लक्ष्य की प्राप्ति हेतु तेज होंगी गतिविधियाँ
 कार्यपालक निदेशक मनोज कुमार ने पत्र के माध्यम से बताया वांछित उपलब्धि प्राप्त करने के लिए इस अभियान को 31 जुलाई तक जारी रखा जाएगा। इस विस्तारित अवधि के दौरान निर्धारित गतिविधियों में तेजी लाते हुए अपेक्षित लक्ष्य की प्राप्ति के लिए  सिविल सर्जन को निर्देश दिए गए हैं। साथ ही इस दौरान की जाने वाली आयोजनों के माध्यम से परिवार कल्याण कार्यक्रम को गति देते हुए अभियान के बाद फ़िक्स्ड डे सर्विसेज की योजना को स्थापित करने की भी बात बतायी गयी

 इन गतिविधियों में आएगी तेजी
 परिवार नियोजन के दूरगामी फ़ायदों को जन-जन तक पहुंचाने के लिए जागरूकता कार्यक्रमों में तेजी लायी जाएगी। परिवार नियोजन के स्थायी एवं अस्थायी साधनों के इस्तेमाल को बढ़ाने के लिए स्वास्थ्य शिविरों के आयोजन पर विशेष बल दिया जाएगा। आशा एवं एएनएम के सहयोग से 15 साल से 49 साल तक के योग्य दंपतियों को परिवार नियोजन के साधनों को अपनाने के लिए प्रेरित करने के साथ सरकार द्वारा प्रदान की जाने वाली प्रोत्साहन राशि के विषय में भी जानकारी देंगी। परिवार नियोजन के अस्थायी साधनों के इस्तेमाल में गति लाने के लिए स्वास्थ्य उपकेंद्र के साथ  सदर अस्पताल एवं प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्रों पर कोंडोम ,गर्भनिरोधक गोली एवं अंतरा इंजेक्शन की उपलब्धता भी बढ़ायी जाएगी। 

परिवार नियोजन के तहत प्रोत्साहन धनराशि 
 परिवार नियोजन के स्थायी एवं अस्थायी साधनों के इस्तेमाल में बढ़ोतरी के लिए सरकार द्वारा लाभार्थियों को प्रोत्साहन धनराशि दी जा रही है।
महिला नसबंदी के लिए 2000 रुपए 

पुरुष नसबंदी के लिए 3000 रुपए

प्रसव के बाद महिला नसबंदी कराने पर 3000 रुपए 

प्रसव के बाद  कॉपर-टी लगवाने पर 300 रुपए 

गर्भपात के बाद कॉपर-टी लगवाने पर 300 रुपए 

अंतरा सुई लगाने पर महिला को 100 रुपए

क्या कहते है सिविल सर्जन 
परिवार नियोजन पर जागरूकता के लिए तिथि में विस्तार किया गया है। विभाग से प्राप्त पत्र के अनुसार 31 जुलाई तक परिवार नियोजन पखवाड़ा जागरूकता अभियान चलाया जाएगा। 
डॉ. माधवेश्वर झा, सिविल सर्जन, सारण

Leave a Reply

Your email address will not be published.