देश की पत्रकारिता में बढ़ रहे वैक्यूम की भरपाई जरूरी है- पूण्य प्रसून बाजपेयी

भोपाल सोमवार 24.02.2020। देश के जाने माने वरिष्ठ पत्रकार पुण्य प्रसून वाजपेयी ने कहा है कि इस समय देश में जनसरोकारी पत्रकारिता दम तोड़ रही है, जिसे जिंदा रखने की बहुत आवश्यकता है। देश के विकास और उसे दिशा देने में पत्रकारों की अहम भूमिका है, उन्हे निष्पक्ष रूप से अपना काम करते हुए अपनी पेशेवर गरीमा को बनाए रखना चाहिए। सोमवार को माखनलाल चतुर्वेदी राष्ट्रीय पत्रकारिता एवं संचार विश्वविद्यालय में आयोजित विशेष व्याख्यान में पुण्य प्रसून वाजपेयी ने कहा कि इस समय देश की पत्रकारिता में वैक्यूम बढ़ रहा है जिसकी भरपाई नए और उर्जावान पत्रकारों से की जा सकती है। कार्यक्रम के अंत में उन्होंने कहा कि आप भविष्य के पत्रकार हैं आपके अंदर हमेशा सवाल होने चाहिए क्यों कि आज देश को पत्रकारों की आवश्यकता हैं।

विशेष व्याख्यान के माध्यम से मीडिया विद्यार्थियों को वर्तमान पत्रकारिता की चुनौतियां और उनसे निपटने के मंत्र देने के बाद श्री वाजपेयी एक घंटे विद्यर्थियों के बीच खुला संवाद किया। इस संवाद में उन्होंने खबरों के चयन, उनको तैयार करने एवं इसके लिए जरूरी रिसर्च पर विस्तार से मार्गदर्शन दिया और प्रभावी समाचारों के लिए सूत्र दिए।

कार्यक्रम की शुरुआत में मीडिया प्रबंधन के विभागाध्यक्ष डॉ: अविनाश वाजपेयी ने पुस्तक तथा शॉल श्रीफल देकर पुण्य प्रसून वाजपेयी का स्वागत किया। विश्वविद्यालय के प्रोफेसर श्री विष्णु राजगढ़िया ने कार्यक्रम का संचालन किया। 

Leave a Reply

Your email address will not be published.