शादी के 50 वीं वर्षगाँठ के अवसर पर वृक्षारोपण कर पत्रकारों ने लिया बुजुर्ग माता-पिता का आशीर्वाद

छपरा(बिहार)खबरो की तलाश में प्रतिदिन की भागदौड़ के बीच अपने निजी जीवन को भी बाखूबी निभाते है वे पत्रकार ही है जो सच्चे समाजसेवक भी कहलाते है. अपना सुख दुःख भूलकर समाज के बीच घट रही हर छोटी बड़ी खबरों को पाठक व दर्शकों तक पहुंचाते है. बनते है प्रेरणास्रोत तो कभी प्रेरणादायक अन्य को बनाते है वे पत्रकार ही है जो समाज को नई राह दिखलाते है.

वैसे तो कहा गया है एक वृक्ष 10 पुत्रों के समान होते है और इसे चरितार्थ करते आज सारण जिले के दर्जनों पत्रकारों ने एक बुजुर्ग दंपति के 50 वीं वर्षगाँठ के मौके पर न सिर्फ उपहार स्वरूप औषधीय गुणों से भरपूर पौधे को भेंट किया बल्कि उन पौधो को उनके नाम पर नवनिर्मित विवाह भवन के समक्ष रोपण भी किया.

सारण जिले के एक निजी टीवी चैनल के पत्रकार व बनियापुर निवासी राकेश कुमार सिंह ने अपने माता गायत्री देवी व पिता बच्चन सिंह के शादी के 50 वीं वर्षगाँठ और उनके नवनिर्मित गायत्री बच्चन विवाह भवन का उद्घाटन समारोह उनके ही पैतृक गांव बनियापुर के हरपुर कराह में रखा गया था, जिसमें सारण जिले में कार्यरत विभिन्न समाचार पत्रों व मीडिया संस्थानों के प्रतिनिधि पहुंचे व पत्रकार साथी के माता पिता को बधाई देने के साथ ही लंबी उम्र की कामना भी किया.

वही वर्किंग जर्नलिस्ट् ऑफ इंडिया सारण ज़िला इकाई के अध्यक्ष चंद्रप्रकाश राज के नेतृत्व में इकाई के सदस्यों द्वारा पत्रकार साथी राकेश कुमार सिंह के माता गायत्री देवी व पिता बच्चन सिंह के शादी के 50 वीं वर्षगाँठ पर कुछ अलग उपहार देने का निर्णय किया. जिसमें ईकाई के महासचिव पंकज श्रीवास्तव, वरीय सदस्य धर्मेन्द्र कुमार रस्तोगी, हिमालय राज, सुनील राज, रंजीत भोजपुरिया के द्वारा वर्तमान समय में पर्यावरण संरक्षण को केन्द्रित कर औषधीय गुण वाले पौधो को बुजुर्ग दंपति को भेंट दिया गया और सभी के समक्ष उनके हाथो द्वारा ही रोपण का कार्य भी कराया गया. राकेश के माता पिता ने ना सिर्फ इस भेंट को सहस्र स्वीकार किया बल्कि इस कार्य को काफी सराहा और पत्रकार लोगो को भी वृक्ष के समान बहुपयोगी बनने का आशीर्वाद दिया.

अक्सर देखा जाता है कि पत्रकार हमेशा सरकारी या गैर सरकारी समाजसेवी संस्था या व्यक्ति के द्वारा किये कार्यो को अपनी समाचार पत्रों, टीवी चैनलो सहित वेबपोर्टल पर जगह तो देते है और पुन: उनके द्वारा किये कार्यों को उनके साथ सभी भूल जाते है. पत्रकार साथियों की माने तो किसी खास मौके पर किया गया वृक्षारोपण हर वर्ष उस दिन आपको न सिर्फ याद दिलाता है बल्कि उस वृक्ष के साथ उस दिन को यादगार भी बना देता है. इसलिए जन्मदिन व शादी विवाह, वर्षगाँठ या अन्य मौको पर वृक्षारोपण अवश्य करना चाहिए ताकि वह पौधा भविष्य में आपके कार्यों का याद दिलाता रहेगा.

इस मौके पर वरीय पत्रकार सत्येन्द्र कुमार तिवारी, पंकज कुमार, कृष्ण कुमार गुप्ता, संजय सिंह, मनोरंजन पाठक, प्रभाष रंजन, धनंजय कुमार गोलू, अनुज कुमार सिंह, राहुल कुमार सिंह, मढ़ौरा के सच्चिदानंद ओझा, भुपेश कुमार, अवधेश वर्मा व विपिन मिश्रा, विजय यादव, तरैया से मनोज कुमार व रंजन श्रीवास्तव सहित दर्जनों पत्रकार साथी मौजूद थे.

पर्यावरण संरक्षण हेतु वृक्ष लगाएंगे,
तो हम अनगिनत फायदे उठाएंगे।

सबका स्वास्थ्य होगा बेहतर, जीवन खुशहाल बनाएंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.