खाने पीने के वस्तुओं के कालाबजारी से कीमत में भारी उछाल ,जनता परेशान

आवश्यक वस्तुओं की खरीदारी करते लोग

भगवानपुर हाट (सीवान) प्रखंड क्षेत्र के बजारो में खाने पीने की वस्तुओं के कलाबाजी के कारण वस्तुओं के कीमत आसमान छूने लगी है। बता दे कि बीते रविवार से ही प्रखंड क्षेत्र में कोरोना वायरस को लेकर लॉकडाउन होने के कारण सभी लोग अपने अपने घरों में दुबके हुए है। जबकि आवश्यक वस्तुओं के खरीददारी के लिए खाने पीने के वस्तुओं व दवा की दुकान को लॉकडाउन से अलग रखा गया है।वही भगवानपुर प्रखंड के बड़े व्यवसायियों द्वारा चोकर,आटा, दाल,चीनी,सरसों तेल, आलू,प्याज आदि के कीमते आसमान छूने लगी है।

इसी के कारण बाजार में दिनभर लोगों का अनजान लग रहा है।बता दे एक दिन पहले तक जो आलू व प्याज बाजार में 15 रुपये किलों बिक रहा था वह मंगलवार को 30 रुपये किलों हो गया है। जबकि चोकर के प्रति बोरा पर सौ रुपया से लेकर दो सौ रुपया अधिक लग रहा है।25 किलों आटा जो 620 रुपया में मिलता था वही अब 700 से 800 रुपया में मिल रहा । इसी तरह से सरसो तेल,चीनी,दाल आदि कीमतों में बढ़ोतरी होने से आम लोगों में बेचैनी है।जबकि सरकार के द्वारा आवश्यक वस्तुओं के आवागमन पर कोई रोक नहीं लगाया गया है।वस्तुओं के कालाबजारी के संबंध में बीडीओ सह एमओ डॉ. अभय कुमार से बात करने पर बताया कि ऐसा करने वाले व्यवसायों के गोदामों पर छापेमारी कर सील कर दिया जाएगा तथा संबंधित धाराओं में प्रथमिकी दर्ज कराया जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published.