मुखिया के परिजन ने किया प्रवासी मजदूर की पिटाई, नाराज ग्रामीणों ने किया एनएच बंद कर प्रदर्शन

भगवानपुर हाट(सीवान)प्रखंड क्षेत्र के बड़कागांव पंचायत के मुखिया इंद्रावती देवी के परिजनों ने बुधवार के शाम में प्रवासी मजदूर को मारपीट कर घायल कर दिया था। इसी से नराज ग्रामीणों ने गुरुवार को घायल बलि महतो को लेकर चौरौली बाजार पर एनएच 331 को बंद कर दो घण्टों तक प्रदर्शन किया। इसकी सूचना मिलते ही थानाध्यक्ष बिपिन कुमार एएसआइ शशिभूषण सिंह,उमेश सिंह दलबल के साथ पहुच कर ग्रामीणों को समझ बुझा कर सड़क के चालू कराया।घायल बलि महतो ने बताया कि वह बुधवार को सिपाह क्वारेंटाइन सेन्टर से 14 दिनों बाद घर पहुचा। क्वारेंटाइन सेन्टर पर बताया गया था कि प्रवासी मजदूर मुखिया से मिलकर आवेदन जमा करना है। जब पीड़ित ने मुखिया को फर्म जमा करने व राशन उपलब्ध कराने का आग्रह किया। जिसपर मुखिया पति सतेंद्र राम भड़क गए।बलि महतो ने प्रतिक्रिया दी तो मुखिया के देवर व डीलर नीरज कुमार नीरज,अशोक राम,नीतीश राम,ददन राम व पिता रामजीत राम ने मिलकर बांधकर रॉड से पिटाई किए।प्रदर्शन में शामिल महिलाओं ने हाथ मे झाड़ू,चपल लेकर प्रदर्शन कर रही थी।
प्रवासी मजदूर की पिटाई के सूचना पर उग्र ग्रामीणों ने मुखिया के घर पहुच किया तोड़फोड़
प्रवासी मजदूर की पिटाई की सूचना मिलते ही उग्र ग्रामीणों ने मुखिया के घर पहुच तोड़फोड़ करते हुए प्रदर्शन किया। इसकी सूचना मिलते ही थानाध्यक्ष बिपिन कुमार ने त्वरित करवाई करते हुए एएसआई उमेश कुमार सिंह को पुलिस बल के साथ भेज मामले को शांत कराया।
दोनों पक्षों ने एक दूसरे के खिलाफ आवेदन दे एफआईआर दर्ज कराया
प्रवासी मजदूर बलि महतो ने थाने में आवेदन देकर मुखिया पति सतेंद्र राम,भाई नीरज कुमार नीरज,ददन राम,अशोक राम व पिता रामजीत राम के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराया है। जबकि दूसरे पक्ष से डीलर नीरज कुमार नीरज के आवेदन पर नौ लोगों के खिलाफ सोसल डिस्टेन्स तोड़ने,जाति सूचक शब्दो के साथ गालीगलौज करने ,घर में घुसकर सरकारी दुकान में तोड़फोड़ कर लूटपाट करने की एफआईआर दर्ज कराई।जिसमे उन्होंने ने बलि महतो,उपेंद्र महतो,ज्ञानचंद महतो,अखिलेश महतो,नन्द साह,मुन्ना महतो,उषा देवी,सहित नौ को नामजद दिया गया है।

घायल बलि महतो

मुखिया के घर जनवितरण प्रणाली व ग्रामीण बैंक का सीएसपी संचालन का लोग कर रहे थे विरोध

मुखिया इंद्रवती देवी के घर जनवितरण प्रणाली का दुकान व ग्रामीण बैंक का सीएसपी संचालित होने पर ग्रामीण विरोध कर रहे थे। मुखिया के परिजनों के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे ग्रामीण लालू महतो, संजय महतो, माधो महतो, छोटेलाल महतो, कन्हैया महतो, काशी राय आदि लोगों का कहना था कि प्रशासन की मिलीभगत से नियमों का अनदेखा कर मुखिया के परिजनों के नाम जनवितरण प्रणाली का दुकान व ग्रामीण बैंक का सीएसपी का आवंटन किया गया है। इसके कारण ग्रामीणों को उनके यहां मजबूरन जाना पड़ता है। वहीं उनके यहां जाने पर मुखिया के पति सत्येन्द्र राम व अन्य परिजन अभद्रता करते है। प्रदर्शनकारी मुखिया के देवर के नाम पर संचालित जनवितरण प्रणाली के दुकान को रद्द करने की मांग कर रहे थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.