सर्पदंश से शिक्षिका की असमायिक मृत्यु से क्षेत्र में दौड़ा शोक की लहर

इसुआपुर(सारण)प्रखंड क्षेत्र के अचीतपुर गांव के समाज सेवी बीरेंद्र सिंह की धर्म पत्नी तथा राजकीय मध्य विद्यालय इसुआपुर में कार्यरत 55 बर्षीय नियमित शिक्षिका किरण देवी की मृत्यु बुधबार की सुबह होगई।वो अहले सुबह घर का दरवाजा खोल रही थी की इसी बीच विषधर ने काट लिया ।परिजन इलाज के लिए पीएचसी इसुआपुर ले गए जहाँ से डॉक्टरों ने सदर अस्पताल छपरा रेफर कर दिया ।लेकिन छपरा जाने के क्रम में मृत्यु हो गई ।शिक्षिका की मौत की खबर से प्रखंड में शोक की लहर दौड़ गई ।विद्यालयों में शिक्षकों व बच्चो ने दो मिनट का मौन रखा ।मृतका की आत्मा की शांति के लिए ईश्वर से प्रार्थना की गई।इधर पति,शिक्षिका पुत्री प्रियंका कुमारी पुत्र पप्पू सिंह व गौरव सिंह दहाडे मारकर रो रहे थे ।परिवार पर दुखों का पहाड़ टूट पड़ा है ।छपरा से लाश पैतृक आवास अचीतपुर लाया गया जहां लोगों का हुजूम उमड़ पड़ा।मृतिकाके दर्शन के लिएमुखिया संघ के अध्यक्ष संगम बाबा,मुखिया राजकिशोर सिंह,जदयू प्रखण्ड अध्यक्ष छबिनाथ सिंह, पूर्ब शिक्षक चुन्नीलाल  साह, बर्तमान शिक्षक बुनिलाल राय,धर्मेंद्र यादव,ओमप्रकाश गुप्ता,सुरेंद्र राम,रणजीत कुमार रजक,सत्यावती कुमारी,इसहाक अंसारी ,टुनटुन हाशमी,शत्रोहन प्रसाद चौरसिया, ददन प्रसाद सिंह सहित सैकड़ों ग्रामीणों ने मृतका के शव पर फूल माला चढ़ाकर श्रधांजलि अर्पित की ।वही परिजनों का ढाढ़स बंधाया ।

Leave a Reply

Your email address will not be published.