बेवजह सडकों पर घुमने वालों पर प्रशासन हुआ सख्त

महाराजगंज (सीवान) बिहार सरकार के लाॅकडाउन के दूसरे दिन अनुमंडल मुख्यालय की प्रशासनिक व्यवस्था कोरोना वायरस के फैलते प्रकोप से निजात पाने के लिए पूरे जोश में देखने को मिली। जहां स्वयं अनुमंडल पदाधिकारी मंजीत कुमार ने लाॅकडाउन का उल्लंघन कर अनावश्यक रूप से बाइक से इधर-उधर घूम रहे लोगों को समझा बुझा रहे थे और बिना काम घूम रहे युवाओं को जबरदस्त फटकार लगाते हुए भी देखे गए। अनुमंडल पदाधिकारी मंजीत कुमार ने लोगों को घरों में रहने की नसीहत दे रहे थे। मंगलवार को सुबह अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी हरिश शर्मा ने अपने आवास के सामने बिना काम बाइक से दौड़ लगा रहे लोगों को रोक कर लाॅकडाउन को तोड़ने वालों को संतोषजनक जबाब नहीं मिलने पर डांट फटकार कर दोबारा

बाजार नहीं आने की नसीहत देते हुए अनावश्यक ना घूमने की हिदायत दे रहे थे। वहीं अनुमंडल के सभी आलाधिकारी किराना व मेडिकल दुकानदारों को समझा रहे थे कि कोई भी ग्राहक आता है तो पहले हैंड सैनिटाइजर करवाएं और स्वयं हैंड सेनीटाइजर कर कोई भी सामान दें और दुकान पर एक ही ग्राहक को बुला कर समान दे और दुकान पर भीड़ न लगाएं। रोजमर्रा के सामान खरीदने आने वाले लोगों को मास्क लगाकर हैंड ग्लव्स लगाकर डीसीएलआर प्रवीण कुमार ने चलने की नसीहत दिए। वही टेंपो चालकों को ठेला वेंडरों को अनावश्यक माल ढुलाई अब ना करने की राय देते हुए कोरोना से बचाव के बारे में बता रहे थे।

गैस सिलेंडर उठाकर ले जानेवाले उपभोक्ताओं को समझाया वही प्रखंड आपूर्ति पदाधिकारी मार्कंडेय प्रसाद सिह ने गैस एजेंसी मालिकों को होम डिलीवरी से गैस आपूर्ति करने की बातें कहीं और होम डिलीवरी शत-प्रतिशत कराने की हिदायत देते हुए यह कहा कि कोरोना से सुरक्षा को मद्देनजर इस कार्य को करना है।कालाबाजारियों पर प्रशासन कि पैनी नजर है वही बीडीओ नन्दकिशोर साह ने लाउडस्पीकर से यह प्रचार करवाया कि कोई भी थोक विक्रेता खाद्यान्न कि कालाबाजारी ना करें। खाद्यान्न की कालाबाजारी करते पकडे जाने पर विधि समत कार्यवाही की जाएगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published.