बुद्ध की कर्मभूमि वैशाली में लाॅकडाउन के बीच मनी बुद्ध पूर्णिमा

2564वां जयंती पर लोगों ने सोशल डिस्टेंस के साथ किया पुष्प अर्पित।

अहिंसा परमो धर्म:के सिद्धांत पर जीवन गुजारने का लिया संकल्प।

हाजीपुर(वैशाली)2564वीं बुद्ध पूर्णिमा के अवसर पर बुद्ध की कर्मभूमि”वैशाली”में”लाॅकडाउन” के बीच जयंती समारोह का आयोजन किया गया।जिले के हाजीपुर शहर स्थित बुद्ध मूर्ति चौक पर वैशाली जिला कुशवाहा संघ के द्वारा सोशल डिस्टेंस का पूरी तरह पालन कर महात्मा बुद्ध की मूर्ति पर पुष्प अर्पित किया गया।संघ के सदस्यों ने मौके पर महात्मा बुद्ध के प्रति आस्था व्यक्त करते हुए उनके नीति – सिद्धांतों पर जीवन गुजारने का संकल्प लिया।कार्यक्रम की अध्यक्षता संघ के उपाध्यक्ष कमल प्रसाद सिंह व संचालन सचिव पंकज कुशवाहा ने की।कार्यक्रम में संघ के महासचिव अनिलचंद्र कुशवाहा ने कहा कि जिन देशों ने महात्मा बुद्ध के सिद्धांतों को अपनाया वे सभी देश काफी विकास किये।संपूर्ण विश्व में फैले कोरोना वायरस के बढते प्रकोप मे उनकी वो पंक्ति याद आती है अहिंसा परमो धर्म: कहकर पूरे विश्व को अहिंसक बनने का संदेश दिया।वहीं संघ के सचिव पंकज कुशवाहा नें कहा कि भगवान बुद्ध अंतिम भिक्षाटन वैशाली में समाप्त कर अंतिम दर्शन दिया था।वैशाली को आशिर्वाद और प्रेम के प्रतीक के रूप मे भिक्षा पात्र देकर इस नगरी को विश्व का केन्द्र बिन्दु बनाया था।उन्होंने विश्व को अहिंसा की नीति त्याग कर बुद्ध के बताए मार्ग पर चलने की अपील की।वहीं संघ के उपाध्यक्ष कमल प्रसाद सिंह ने सोशल डिस्टेंसिंग की महत्ता पर लोगों को जानकारी देकर जागरूक किया।

जबकि महासचिव अनिलचंद्र कुशवाहा ने लोगों के बीच मास्क का वितरण कर इसे मुंह पर लगाकर ही घर से बाहर निकलने का आह्वान किया।मौके पर संघ के कोषाध्यक्ष राजेंद्र कुमार बनफूल,अशोक कुमार,डॉक्टर अरविंद कुमार शरण,रत्नेश कुमार यादव,रामेश्वर प्रसाद सिंह,जयमंगल सिंह,दीप नारायण सिंह आदि ने सोशल डिस्टेंसिंग का पालन कर पुष्प अर्पित की।वहीं वैशाली जिले के महुआ,जन्दाहा,लालगंज,भगवानपुर,पटेढी बेलसर,वैशाली,पातेपुर,गोरौल,बिदुपुर,सहदेई बुजुर्ग,महनार,देसरी,राघोपुर व चेहराकलां प्रखंड में भी बुद्ध पूर्णिमा के अवसर महात्मा बुद्ध की जयंती समारोह आयोजित कर लोगों ने पुष्प अर्पित की व उनके बताए हुए बातों पर जीवन गुजारने का संकल्प लिया।
रिपोर्ट व फोटो मोहम्मद शाहनवाज अता

Leave a Reply

Your email address will not be published.