हंसमुख,हर दिल अजीज,हर फन मौला,नेक दिल इंसान हम सबको छोड़ चले गए

हजरत जन्दाहा (वैशाली)अखिल भारतीय साईं शाह कमिटी के प्रखंड अध्यक्ष रहे मोहम्मद इदरीस शाह अब नहीं रहे।जुमा की नमाज के पहले अपने घर पर आखरी सांस ली और हम सब को छोड़कर अपने रब से जा मिले।यह कई महीनों से बीमार थे।हंसमुख,हर दिल अजीज,हर फन मौला,नेक दिल के साथ-साथ नमाज व रोजा के पाबंद भी थे।चार भाईयों में दूसरे नंबर पर होने के बावजूद अपनी संघर्ष भरी जिंदगी में अव्वल दर्जे पर रहे।ग़रीबी के बावज़ूद साफ-सफाई के साथ अच्छे कपड़े पहनना इनका शौक रहा।खुद बे औलाद रहते हुए सभी छोटे भाई का सहारा बनें।अपनी छोटी सी बीड़ी की दुकानदारी से छोटे भाई मोहम्मद अब्बास को पढ़ाया और फिर बेरोज़गारी की जद्दोजहद से पहले ही बढ़िया जेनरल स्टोर की दुकान करा दिया।

इतना ही नहीं अपने एक छोटे भाई मोहम्मद इजहार के एक बेटा को गोद लेकर अपना लिया।मगर किस्मत भी अजब खेल खेला आखरी वक्त में बेटे की मिट्टी भी नसीब न हुई।बीबी अब बेवा हो गई।”लाॅकडाउन”को ले चंद लोगों ने नमदीदा हो नमाज ए जनाजा के बाद स्थानीय कब्रिस्तान में सुपुर्द ए खाक किया।जनाजा की नमाज हजरत जन्दाहा जामा मस्जिद के इमाम व खतीब हाफिज मोहम्मद अख्तर उल इस्लाम अशाअती ने पढ़ाई।इनके इंतकाल पर जन्दाहा बाज़ार के व्यवसायी ने शोक व्यक्त किया और दिवंगत आत्मा की शांति के लिए प्रार्थना की।शोक व्यक्त करने वालों में मुखिया सत्यनारायण चौधरी,पंचायत समिति सदस्य जितेंद्र कुमार जेपी,पूर्व समिति सदस्य महेश गुप्ता,सरपंच गामा सिंह,शंकर साह,ओमकार चौधरी,जामा मस्जिद सेक्रेटरी मोहम्मद हारून,मोहम्मद जमशेद,मोहम्मद शाहनवाज अता आदि शामिल हैं।
रिपोर्ट व फोटो मोहम्मद शाहनवाज अता

Leave a Reply

Your email address will not be published.