दिल्ली में पति पत्नी के विवाद को सुलझाने में लगी चाकू युवक का मौत

भगवानपुर हाट(सिवान)थाना क्षेत्र के बलहा एराजी पंचायत के रामपुर लैवा गांव के रामनाथ पंडित के एकलौता पच्चीस वर्षीय पुत्र संजीव कुमार पांडेय का शुक्रवार को दिल्ली में निधन हो गया। इनके निधन होने के संबंध में इन्ही के गांव के दिल्ली में रहने वालों ने बताया कि मृतक दिल्ली के जमरुदपुर कैलाश कलोनी दिल्ली में अपने किराए के मकान में रह रहे थे। शुक्रवार के रात्रि में इनके पड़ोस में रहने वाले पड़ोसी ने शराब के नशे में धुत होकर विवाद कर रहे थे। इसी विवाद को सुलझाने को लेकर विवाद हो गया। विवाद के बाद संजीव अपने कमरे पर सोने चला गया। इसी बीच दोनों पतिपत्नी ने चाकू लेकर मृतक के दरवाजे पर पहुच शोर करने लगा,जब संजीव ने दरवाजा खोला तभी दोनों ने चाकू से हमला कर दिया जिसमें संजीव को पेट में चाकू लगने से मौके पर मौत हो गयी ।इस घटना की सूचना पड़ोसियों ने दिल्ली पुलिस को सौ नम्बर पर फोनकर दिया मौके पर पुलिस पहुच शव को कब्जे में कर शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज परिजनों को सूचना दिया। जबकि पुलिस ने त्वरित कार्रवाई करते हुए उन दोनों को उसके मित्र के क्वार्टर से गिरफ्तार किया।
बुझ गया घर का चिराग,छब्बीस माह पूर्व हुई थी मृतक की शादी मृतक अपने माता पिता के तीन संतानों में इकलौता पुत्र था जोकि अपने गरीब माता पिता के दुखों को दूर करने के लिए दिल्ली किसी निजी कम्पनी में काम कर अपने घर का खर्चा चला रहा था।

दहार मार कर रोते विलखते परिजन

मृतक की शादी 14 मई 17 को छपरा जिला के जलालपुर थाना क्षेत्र के मंगोलापुर गांव के सरिता कुमारी से हुई थी। मृतक को कोई औलाद नहीं है। जबकि मृतक के पिता रामनाथ पांडेय गांव में ही बाबाचौक बाजार पर एक गुमटी में पान की दुकान चलाकर अपने परिवार का परवरिश करते है। मृतक के बड़ी बहन की शादी हो चुकी है जबकि छोटी बहन अभी पढ़ाई कर रही है।
मृतक के शव पहुचते ही गांव हुआ गमगीन मृतक का शव पहुचते ही घर पर परिजनों व संबंधियों के चीत्कार से माहौल हुआ गमगीन। वही मृतिका की पत्नी सरिता ,माता सुमित्रा देवी का रो-रोकर हुआ बुड़ा हाल।मृतक के परिजनों के रोने पीटने के दहार से उपस्थित सभी लोगों के आँखों से आँसू बह रहे थे। वही लोगों में चर्चा हो रही थी संजीव बहुत ही मिलनसार व्यक्ति था जोकि शहर से आने पर गांव के सभी लोगों से मिलना नहीं भूलता था। 

Leave a Reply

Your email address will not be published.